PM नरेंद्र मोदी ने बिहार ने दिए 33 हजार करोड़ के ये तोहफे, जानिए क्‍या-क्‍या मिला

PM नरेंद्र मोदी ने बिहार ने दिए 33 हजार करोड़ के ये तोहफे, जानिए क्‍या-क्‍या मिला

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को बिहार को 33 हजार करोड़ से अधिक की सौगात दी। सबसे बड़ी सौगात में पटना मेट्रो का शिलान्यास है। इसके अलावा बरौनी रिफाइनरी प्रोजेक्ट भी काफी महत्वपूर्ण है। बरौनी की सभा में राज्यपाल लालजी टंडन, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार व कई केंद्रीय मंत्री भी उपस्थित रहे। उन्‍होंने बरौनी से ही रिमोट से पटना मेट्रो का शिलान्यास किया।

इसके पहले पीएम मोदी अक्टूबर 2017 में मोकामा स्थित राजेंद्र सेतु पुल के समानांतर बनने वाले फोर लेन पुल के निर्माण का कार्यारंभ करने आए थे। फिर, 2018 के अप्रैल में मोतिहारी स्वच्छता के सत्याग्रही कार्यक्रम में भी आए थे।

इस तरह बरौनी रिफाइनरी का होगा क्षमता

विस्तार

बरौनी रिफाइनरी की क्षमता विस्तार योजना के तहत नौ मिलियन मीट्रिक टन प्रति वर्ष एवीयू की योजना का शिलान्यास हुआ। इसके माध्यम से पूर्वी भारत में पेट्रो उत्पादों की बढ़ती मांग को पूरा किया जाएगा। पॉलीप्रोपिलीन यूनिट के माध्यम से प्लास्टिक डाउनस्ट्रीम उद्योग को मदद मिलेगी। पारादीप-हल्दिया-दुर्गापुर एलपीजी पाइपलाइन को बढ़ाने तथा इसे पटना-मुजफ्फरपुर तक विस्तारित कर एलपीजी बॉटलिंग प्लांट से लिंक करने की योजना का भी शिलान्यास प्रधानमंत्री ने किया। बरौनी रिफाइनरी में एटीएफ हाइड्रोलिक यूनिट का भी शिलान्यास हुआ। इससे मेक इन इंडिया पहल के माध्यम से बिहार और नेपाल को संपूर्ण एविएशन फ्यूल की जरूरतों की आपूर्ति होगी। अमोनिया-यूरिया उर्वरक कांप्लेक्स का भी शिलान्यास प्रधानमंत्री ने किया।
पटना मेट्रो रेल परियोजना का शिलान्यास

पटना मेट्रो रेल परियोजना का भी प्रधानमंत्री ने रिमोट से शिलान्यास किया। हाल ही में केंद्रीय कैबिनेट ने इस प्रोजेक्ट को अपनी मंजूरी प्रदान की है। इसकी लागत 13365.77 करोड़ रुपए है। फिलहाल दो कॉरिडोर के तहत इसकी लंबाई 31.39 किमी है। प्रधानमंत्री ने पटना जू के पास रिमोट से इसका शिलान्यास किया।

सीवरेज परियोजनाओं का शिलान्यास
पटना के करमली चक में सीवरेज नेटवर्क योजना स्थापित करने को केंद्र में रख 96.54 किमी लंबे नेटवर्क बिछाने की योजना का शिलान्यास किया गया। इसके तहत 30 एमएलडी क्षमता का निर्माण होना है। इसके अतिरिक्त बाढ़, सुल्तानगंज तथा नवगछिया में सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट योजना का भी शिलान्यास किया गया। प्रधानमंत्री ने विभिन्न स्थानों पर 1424.14 करोड़ रुपए की लागत से 22 अमृत परियोजनाओं का भी शिलान्यास किया।

मेडिकल कॉलेज का शिलान्यास व उन्नयन योजना

प्रधानमंत्री ने बरौनी से ही छपरा में मेडिकल कॉलेज तथा भागलपुर व गया के सरकारी मेडिकल कॉलेज के उन्नयन योजना का भी शिलान्यास किया।

इन योजनाओं का किया उद्घाटन

– जगदीशपुर-हल्दिया और बोकारो-धामरा प्राकृतिक गैस पाइपलाइन परियोजना
– पटना के शहरी क्षेत्र में 3,200 वर्ग किमी में 9.75 लाख घरों में पीएनजी तथा वाहनों के लिए सीएनजी आपूर्ति योजना का उद्घाटन
– पटना रिवर फ्रंट डेवलपमेंट योजना फेज-1 के तहत 16 घाटों का उद्घाटन
– रांची-पटना एसी साप्ताहिक ट्रेन का आरंभ
– बरौनी-कटिहार-कुमेदपुर, मुजफ्फरपुर-सुगौली बेतिया-रक्सौल, फतुुहा-इस्लामपुर व बिहारशरीफ -दनियावां सेक्शन का विद्युतीकरण

You Might Also Like