IAF की कार्रवाई के बाद पाकिस्तान ने भारतीय उच्चायुक्त को तलब किया

IAF की कार्रवाई के बाद पाकिस्तान ने भारतीय उच्चायुक्त को तलब किया

पाकिस्तान ने नियंत्रण रेखा पार आतंकवादी शिविरों पर भारतीय वायुसेना द्वारा किए गए हमले का विरोध जताने के लिए मंगलवार को कार्यवाहक भारतीय उच्चायुक्त गौरव अहलूवालिया को तलब किया. पाकिस्तानी मीडिया ने विदेश विभाग के हवाले से रपट में कहा है कि अहलूवालिया को एक विरोध पत्र भी सौंपा गया है. इसके पहले प्रधानमंत्री इमरान खान की अध्यक्षता में पाकिस्तान की राष्ट्रीय सुरक्षा समिति एनएससी की एक विशेष बैठक हुई, जिसमें इस मामले को सभी अंतर्राष्ट्रीय मंचों पर उठाने का निर्णय लिया गया.

पाकिस्तान ने स्वीकार किया है कि भारतीय वायुसेना के विमानों ने बालाकोट में हमले किए, लेकिन उसने कहा कि जब उसके युद्धक विमानों ने जवाबी कार्रवाई की तो भारतीय विमान वापस लौट गए और इस हमले में जमीन पर कोई नुकसान नहीं हुआ है. हालांकि हमले के चंद घंटों के अंदर पाकिस्तान ने माकूल जवाबी कार्रवाई की धमकी दी. पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर जैश द्वारा किए गए आत्मघाती हमले के 12 दिनों बाद भारत ने मंगलवार तड़के बालाकोट स्थित जैश के सबसे बड़े प्रशिक्षण शिविर पर हमला किया. इस हमले में बड़ी संख्या में आतंकवादी और उसके प्रशिक्षक मारे गए.

पाकिस्तान ने नियंत्रण रेखा पार आतंकवादी शिविरों पर भारतीय वायुसेना द्वारा किए गए हमले का विरोध जताने के लिए मंगलवार को कार्यवाहक भारतीय उच्चायुक्त गौरव अहलूवालिया को तलब किया. पाकिस्तानी मीडिया ने विदेश विभाग के हवाले से रपट में कहा है कि अहलूवालिया को एक विरोध पत्र भी सौंपा गया है. इसके पहले प्रधानमंत्री इमरान खान की अध्यक्षता में पाकिस्तान की राष्ट्रीय सुरक्षा समिति एनएससी की एक विशेष बैठक हुई, जिसमें इस मामले को सभी अंतर्राष्ट्रीय मंचों पर उठाने का निर्णय लिया गया.

पाकिस्तान ने स्वीकार किया है कि भारतीय वायुसेना के विमानों ने बालाकोट में हमले किए, लेकिन उसने कहा कि जब उसके युद्धक विमानों ने जवाबी कार्रवाई की तो भारतीय विमान वापस लौट गए और इस हमले में जमीन पर कोई नुकसान नहीं हुआ है. हालांकि हमले के चंद घंटों के अंदर पाकिस्तान ने माकूल जवाबी कार्रवाई की धमकी दी. पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर जैश द्वारा किए गए आत्मघाती हमले के 12 दिनों बाद भारत ने मंगलवार तड़के बालाकोट स्थित जैश के सबसे बड़े प्रशिक्षण शिविर पर हमला किया. इस हमले में बड़ी संख्या में आतंकवादी और उसके प्रशिक्षक मारे गए.

You Might Also Like