दबाव के बाद बैकफुट पर पाकिस्तान, आतंकी अजहर मसूद पर विरोध वापस ले सकता है

दबाव के बाद बैकफुट पर पाकिस्तान, आतंकी अजहर मसूद पर विरोध वापस ले सकता है

जैश-ए-मुहम्मद समेत सभी प्रतिबंधित संगठनों के खिलाफ पाकिस्तान निर्णायक कार्रवाई कर सकता है और संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के आतंकवादियों की सूची में जैश प्रमुख मसूद अजहर को शामिल करने के प्रस्ताव पर अपने विरोध को वापस भी ले सकता है। रविवार को एक खबर में यह बात कही गई।

अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस ने बुधवार को पाकिस्तान में रहने वाले अजहर को वैश्विक आतंकवादी घोषित करने के लिए संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में नए सिरे से प्रस्ताव रखा था। ऐसा होने से अजहर के वैश्विक रूप से यात्रा करने पर पाबंदी लग जाएगी, उसकी संपत्तियां फ्रीज हो जाएंगी।

घटनाक्रम से जुड़े एक वरिष्ठ सुरक्षा अधिकारी के हवाले से एक्सप्रेस ट्रिब्यून ने कहा कि पाकिस्तान एक बड़े नीतिगत फैसले में सभी प्रतिबंधित संगठनों और साथ ही प्रतिबंधित जैश के प्रमुख के खिलाफ निर्णायक कार्रवाई कर सकता है। अजहर के खिलाफ क्या कार्रवाई की जाएगी, इस बारे में स्थिति साफ नहीं है लेकिन अधिकारी ने संकेत दिया कि पाकिस्तान जैश प्रमुख को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद द्वारा वैश्विक आतंकी घोषित कराने के प्रस्ताव पर अपने विरोध को वापस ले सकता है।

 

भारत के साथ बढ़ते तनाव के बीच पाकिस्तान सरकार आतंकी सरगना अजहर मसूद पर जल्द कार्रवाई कर सकती है। उच्च सरकारी सूत्रों के अनुसार जैश ए मुहम्मद के सरगना पर कार्रवाई करने के लिए पाकिस्तान बड़ी कार्रवाई कर सकता है। सरकार ने सैद्धांतिक तौर पर मसूद के खिलाफ कार्रवाई का मन बना लिया है। सूत्रों ने कहा कि आतंकी संगठन पर किसी भी समय जल्द ही कार्रवाई की जा सकती है। सूत्रों के मुताबिक इमरान खान की सरकार भारत के साथ बढ़ते तनाव के लेकर ऐसा करेगी। हालांकि सूत्रों ने ये नहीं बताया कि उसे घर में नजरबंद किया जाएगा या फिर हिरासत में लिया जाएगा।

You Might Also Like