अमेरिकी सांसद ने प्रिंस सलमान को कहा ‘गैंगस्टर’, सऊदी पर लगाए ये बड़े आरोप

अमेरिका अकसर सऊदी अरब के साथ अपने रिश्तों को अच्छा बताता रहा है। लेकिन अगर बात वहां के सांसदों की करें तो ऐसा नहीं है। वह सऊदी अरब के राजकुमार सलमान बिन मोहम्मद को एक अच्छा व्यक्ति नहीं मानते हैं। सांसदों ने उन्हें एक ‘गैंगस्टर’ कहा है। सेवानिवृत जनरल जॉन एबीजाइद ने भले ही बुधवार को कहा कि दोनों देशों के बीच रिश्तों में कोई परेशानी नहीं है। एबीजाइद को अमेरिकी राष्ट्रिपति डोनाल्ड ट्रंप ने सऊदी अरब के राजदूत के रूप में नामित किया है। 

अमेरिकी सांसदों ने सलमान को गैंगस्टर कहा और उनके साम्राज्य की आलोचना की। रिपब्लिकन और डेमोक्रेट्स ने यमन के गृह युद्ध में सऊदी की भूमिका की निंदा की। उन्होंने कहा कि ये साम्राज्य अधिकारों का हनन करता है, महिला कार्यकर्ताओं को प्रताड़ित करता है और अमेरिकी नागरिक एवं सऊदी पत्रकार की हत्या के पीछे भी इसी का हाथ है। जब दोनों ओर से सांसद ये बात कह रहे थे तो एबीजाइद ने वाशिंगटन-रियाध के रणनीतित महत्व के बारे में सबसे कहा। ट्रंप के जनवरी 2017 में राष्ट्रपति बनने के बाद से सऊदी में अमेरिका का कोई राजदूत नहीं है।

इससे पहले अमेरिकी सांसदों ने राजकुमार सलमान पर खशोगी की हत्या का आरोप लगाया था। सांसद लिंडसे ग्राहम ने भी इस बात में हामी भरी थी। दक्षिण कैरोलिना रिपब्लिकन ने कहा था कि सऊदी राजकुमार “विनाश करने वाला, खतरनाक और क्रेजी है।” बता दें खशोगी हत्या मामले में सऊदी अरब ने 11 लोगों पर आरोप लगाया है लेकिन इस बात से इनकार कर दिया है कि इसमें प्रिंस सलमान भी शामिल थे।

सीनेट कमिटि के सदस्यों ने सीआईए निदेशक जीना गैस्पेल की ओर से ब्रीफिंग के बाद विदेशी संबंधों पर अपने विचार रखे थे। ग्राहम ने इस्तांबुल के वाणिज्य दूतावास में खशोगी की हत्या का जिक्र करते हुए कहा कि “यहां कोई स्मोकिंग गन नहीं है लेकिन वह दिख रही है”।

सांसद ने कहा था कि वह यमन की लड़ाई में सऊदी की भागीदारी के समर्थन में नहीं हैं और न ही वह सऊदी को हथियारों की बिक्री का समर्थन करते हैं। वह ऐसा तब तक करते रहेंगे जब तक सऊदी प्रिंस सत्ता में रहते हैं। 

Related Articles

Live TV
Close