टिहरी में हिमालयन अस्पताल देगा चिकित्सा सेवाएं, पढ़िए पूरी खबर

टिहरी में हिमालयन अस्पताल देगा चिकित्सा सेवाएं, पढ़िए पूरी खबर

<di

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने हिमालयन अस्पताल, जौलीग्रांट केजिला चिकित्सालय बौराड़ी टिहरी, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बेलेश्वर और देवप्रयाग में दी जाने वाली चिकित्सा सेवाओं की शुरुआत की। इस प्रकार राज्य में स्वास्थ्य सेवाओं के विस्तार और विकास के लिए सरकार द्वारा प्रारंभ की गई हेल्थ सिस्टम डेवलपमेंट परियोजना के प्रथम चरण के अंतर्गत टिहरी जिले में चिकित्सा सेवाओ का संचालन हिमालयन अस्पताल जौलीग्राट ने शुक्रवार से आरंभ कर दिया गया है।

 

मुख्यमंत्री आवास में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि परियोजना की इस गतिविधि को टिहरी क्लस्टर के नाम से संचालित किया जा रहा है। जिला चिकित्सालय बौराड़ी, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बेलेश्वर एवं देवप्रयाग में हिमालयन अस्पताल के चिकित्सक तैनात रहेंगे। तीन सचल चिकित्सा वाहन भी संचालित किए जाएंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने टिहरी क्लस्टर के अलावा पौड़ी जिले की स्वास्थ्य सेवाओं को भी इसी तर्ज पर चलाने का निर्णय लिया है, जिसके लिए कार्यवाही शुरू कर दी गई है।
संयुक्त चिकित्सालय रामनगर, सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र भिकियासैंण तथा बीरोंखाल को भी लोक निजी सहभागिता के अंतर्गत सुदृढ़ किया जाएगा। सचिव स्वास्थ्य नितेश झा ने बताया कि जिला चिकित्सालय में हिमालयन अस्पताल के 11 विशेषज्ञ चिकित्सको की सेवाओ के अतिरिक्त सीटी स्केन, अल्ट्रासाउंड, एक्स रे तथा ईसीजी आदि प्रमुख जाच उपलब्ध रहेंगी। परियोजना के अंतर्गत संचालित होने वाली तीनो सचल चिकित्सा वाहन जिले के मुख्य चिकित्सा अधिकारी के परामर्श के अनुसार विभिन्न क्षेत्रों में भ्रमण करेंगे।
जिला चिकित्सालय में राज्य सरकार के सीएमएस स्तर के एक अधिकारी और सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र स्तर पर राज्य सरकार के नियमित मेडिकल ऑफिसर का प्रशासनिक नियंत्रण बना रहेगा। इस अवसर पर स्वामी राम हिमालयन अस्पताल एवं मेडिकल कॉलेज जौलीग्रांट के कुलपति डॉ. विजय धस्माना ने इस परियोजना की महत्वपूर्ण विशेषताओं के बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि अस्पताल द्वारा सभी सेवाएं सरकारी दरो पर पूर्व की भाति आम जनता को मिलेंगी और उन्हें किसी प्रकार का अतिरिक्त शुल्क नहीं देना होगा।

You Might Also Like