मप्र / भाजपा में शामिल होने के बाद पार्टी नेताओं से मिलीं साध्वी प्रज्ञा, कहा- धर्मयुद्ध लड़ूंगी और जीतूंगी

मप्र / भाजपा में शामिल होने के बाद पार्टी नेताओं से मिलीं साध्वी प्रज्ञा, कहा- धर्मयुद्ध लड़ूंगी और जीतूंगी

भोपाल. भोपाल लोकसभा सीट से भाजपा उम्मीदवार बनाए जाने की चर्चाओं के बीच साध्वी प्रज्ञा ठाकुर बुधवार को पार्टी के प्रदेश कार्यालय पहुंचीं। उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और भाजपा के संगठन महामंत्री रामलाल समेत कई नेताओं से मुलाकात की। दिग्विजय सिंह के खिलाफ प्रज्ञा के नाम का ऐलान आज हो सकता है।

भाजपा प्रदेश कार्यालय से निकलने के बाद साध्वी ने कहा कि मेरे लिए कोई चुनौती नहीं है। ये धर्मयुद्ध है और हम इसे जीतेंगे। मैंने पार्टी के कई नेताओं से मुलाकात की। सबने तय किया है कि हम राष्ट्र के विरुद्ध षड़यंत्र करने वालों के खिलाफ लड़ेंगे। क्योंकि राष्ट्र सुरक्षा पहले है और बाकी चीजें बाद में।

प्रज्ञा ने कल ली भाजपा की सदस्यता

एक सवाल के जवाब में प्रज्ञा ने बताया कि वह मंगलवार (16 अप्रैल) को पार्टी की सदस्यता ले चुकी हैं। कई नामों पर चर्चा और असमंजस के स्थिति के बाद भाजपा से आखिर में प्रज्ञा का नाम तय माना जा रहा है। प्रज्ञा मालेगांव धमाके के बाद सुर्खियों में आई थीं।

संघ ने प्रज्ञा का नाम आगे बढ़ाया: बताया जा रहा है कि प्रज्ञा के नाम पर सहमति बनाने में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) ने अहम भूमिका निभाई। यह उनका पहला चुनाव होगा। भोपाल सीट से उम्मीदवारी को लेकर नरेंद्र सिंह तोमर, शिवराज सिंह चौहान, महापौर आलोक शर्मा और वीडी शर्मा के नाम पर पार्टी स्तर पर खासी मशक्कत हुई, लेकिन संघ ने प्रज्ञा का नाम बढ़ा दिया।

You Might Also Like