अलवर सामूहिक दुष्कर्म पर PM मोदी ने अवॉर्ड वापसी गैंग से पूछा, अब चुप क्यों बैठे हो

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

चाहे भ्रष्टाचार से लड़ने का मामला हो, या फिर आतंकवाद और नक्सलवाद से निपटने का काम, 5 वर्ष में आपके प्यार और समर्थन से मैं राष्ट्रहित में बड़े और कड़े फैसले ले पाया हूं। आज गाजीपुर, पूर्वांचल सहित समूचा पूर्वी भारत विकास की मुख्यधारा से जुड़ रहा है। गांव में सड़कें बन रही हैं, हाईवे के काम चल रहे है, पूर्वांचल एक्सप्रेसवे बन रहा है, रेलवे का अभूतपूर्व काम हुआ है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यह बातें शनिवार को उत्तर प्रदेश के गाजीपुर में आयोजित एक जनसभा में कही।

PM मोदी ने कहा, कोई भी देश कमजोर सरकारों के रहते शक्तिशाली नहीं बन सकता है

 कांग्रेस और उसके महामिलावटी साथियों ने तीन शब्दों के आधार पर देश चलाया है। उनका मंत्र है – “हुआ तो हुआ”। देश का किसान, अधूरी सिंचाई परियोजनाओं की वजह से पानी के लिए परेशान होता रहा, ये महामिलावटी कहते रहे- हुआ तो हुआ। कांग्रेस, सपा और बसपा ने हमेशा सिर्फ अपने परिवारों के विकास के बारे में ही सोचा है। राष्ट्र के विकास पर ध्यान देने की इन्होने कभी नहीं सोची।

इन महामिलावटी लोगों की सच्चाई देखने के बाद 2014 में आपने इस सेवक को अपनी सेवा करने का सम्मान दिया। बिना भेदभाव भी विकास हो सकता है, सबका साथ-सबका विकास हो सकता है, ये हमने करके दिखाया है। अब तो गांव-गांव में डाकघर बैंक की सेवा देना शुरू कर रहे हैं। अब छोटे से छोटे किसान के बैंक खाते में सीधा पैसा आ रहा है, बीज और खाद के लिए उन्हें परेशान नहीं होना पड़ रहा है।

इस पूरे चुनाव के दौरान सपा बसपा वाले मेरी जाति को लेकर हमले करते रहे हैं। मैं पिछड़ी जाति में पैदा जरूर हुआ, लेकिन देश के हर पिछड़े को, हर गरीब को, अगड़ा बनाने के लिए दिन-रात प्रयास कर रहा हूं। ये लोग जितनी भी गालियां मुझे देते रहें, मेरा ध्यान विकास पर रहेगा। आजादी के बाद हमारी पहली ऐसी सरकार है जिसने महिलाओं के लिए इतने काम किए हैं।

हमारी सरकार ने बलात्कार जैसे जघन्य अपराध के लिए फांसी तक की सज़ा का प्रावधान किया है। महिला हितों और महिलाओं की सुरक्षा के प्रति हम पूरी तरह संवेदनशील हैं। बीते दो-तीन दिन से राजस्थान के अलवर की एक खबर आप पढ़ रहे होंगे। वहां एक दलित बेटी के साथ दो हफ़्ता पहले कुछ दरिंदों ने बलात्कार किया। लेकिन उन दरिंदों को पकड़ने के बजाय, वहां की पुलिस, वहां की कांग्रेस सरकार इस केस को ही छिपाने-दबाने में जुट गई।

 राजस्थान में भी चुनाव थे इसलिए वहां की कांग्रेस सरकार, उस बिटिया को न्याय दिलाने के बजाय चुनाव बीतने का इंतजार करती रही। यही कांग्रेस के न्याय की सच्चाई है। इनके रागदरबारी भी इतने भयंकर कांड को दबाते रहे और मोमबत्तियां लेकर निकलने वाले लोगों की मोमबत्तियों से धुआं निकल रहा है। ये जो अवॉर्ड वापसी गैंग थी, मैं उनसे पूछना चाहता हूं कि अलवर की बेटी के साथ बलात्कार होने पर भी आपकी गैंग चुप क्यों बैठी है

Related Articles

Live TV
Close