लोकसभा चुनाव: 7वें चरण में भी बंगाल में हिंसा, निर्मला बोलीं- हार से बौखलाकर हिंसा कर रहे टीएमसी के कार्यकर्ता

पश्चिम बंगाल में पिछले छह चरणों के दौरान भी टीएमसी और बीजेपी कार्यकर्ताओं के बीच हिंसक झड़प हुई थी। वहीं, उत्तर प्रदेश और पंजाब में भी कार्यकर्ताओं के बीच भिड़ंत की घटनाएं सामने आई हैं। सातवें चरण में 8 राज्यों की 59 लोकसभा सीटों पर मतदान हो रहा है।

लोकसभा चुनाव के सातवें चरण के मतदान के दौरान पश्चिम बंगाल में एक बार फिर हिंसा देखने को मिली है। डायमंड हार्बर लोकसभा सीट से बीजेपी उम्मीदवार निलंजन रॉय की कार पर हमला हुआ है। बंगाल में पिछले 6 चरणों के दौरान भी टीएमसी और बीजेपी कार्यकर्ताओं के बीच हिंसक झड़प हुई थी। जाधवपुर और बसीरहाट में बीजेपी ने टीएमसी पर वोटिंग में गड़बड़ी का आरोप लगाया है। इस बीच बीजेपी ने कहा कि टीएमसी कार्यकर्ताओं को हार दिख रही है, इसलिए बौखलाहट में हिंसा की जा रही है। 

केंद्रीय रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि नतीजे पक्ष में न रहने पर टीएमसी नरसंहार करा सकती है। उन्होंने कहा कि टीएमसी की हिंसा के खिलाफ बीजेपी का प्रतिनिधिमंडल चुनाव आयोग से शिकायत करेगा। वहीं, उत्तर प्रदेश और पंजाब में भी कार्यकर्ताओं के बीच भिड़ंत की घटनाएं सामने आई हैं। सातवें चरण में 8 राज्यों की 59 लोकसभा सीटों पर मतदान हो रहा है। 

पश्चिम बंगाल
लोकसभा चुनाव के सातवें और आखिरी चरण में पश्चिम बंगाल की 9 सीटों पर वोटिंग जारी है। पश्चिम बंगाल में आखिरी चरण भी हिंसा से अछूता नहीं है। डायमंड हार्बर लोकसभा सीट से ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी के खिलाफ चुनाव लड़ रहे बीजेपी कैंडिडेट निलांजन रॉय की कार पर हमला हुआ है। यहां के डोंगरिया इलाके में रॉय की कार पर हमला हुआ। 

जाधवपुर से बीजेपी उम्मीदवार प्रफेसर अनुपम हाजरा ने टीएमसी पर कई बूथों पर वोटिंग में गड़बड़ी करने और बीजेपी कार्यकर्ताओं की पिटाई करने का आरोप लगाया है। उन्होंने आरोप लगाया कि टीएमसी की महिला कार्यकर्ता कपड़े से चेहरे को ढककर फर्जी वोटिंग कर रही हैं। 

टीएमसी से बीजेपी में आए अनुपम हाजरा ने बूथ नंबर 150/137 का दौरा करने के बाद आरोप लगाया, ‘चेहरे को ढककर टीएमसी की महिला कार्यकर्ता फर्जी वोट डाल रही हैं, उन्हें पहचानना मुश्किल है। जब हमने इस पर आपत्ति की तो उन्होंने पोलिंग स्टेशन पर हंगामा किया।’ 

Related Articles

Live TV
Close