चार साल तक ननदोई करता रहा दुष्कर्म, मुकदमा दर्ज

लखनऊ
आशियाना इलाके में निजी विद्यालय की एक शिक्षिका को बच्चों और उसकी हत्या करने की धमकी देकर ननदोई चार साल तक दुष्कर्म करता रहा। आरोप है कि तीन दिन पहले उसे कमरे में बंधक बनाकर पीटा और दुपट्टे से गला घोंटकर हत्या का प्रयास किया। किसी तरह वहां से बचकर पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने पारिवारिक मामला बताकर पल्ला झाड़ लिया। पीड़िता ने शनिवार को महिला थाने में तहरीर दी। पुलिस ने आरोपित ननदोई सहित अन्य ससुरालियों पर मुकदमा दर्ज कर लिया है।

प्रभारी निरीक्षक महिला थाना शारदा चौधरी के मुताबिक विकासनगर निवासी एक महिला निजी विद्यालय में शिक्षिका है। उसकी शादी 20 साल पहले आशियाना निवासी युवक से हुई थी। युवक के पिता कोल इंडिया में महाप्रबंधक पद से रिटायर्ड हैं। शिक्षिका के मुताबिक कुछ दिन बाद ननद की शादी हुई तो ननदोई का घर आना-जाना शुरू हुआ। भोपाल में रहने वाले सेना के कर्नल ननदोई ने घर पर अकेला देख उसके साथ छेड़छाड़ शुरू कर दी। इसी बीच उसने बच्चों का दाखिला सैनिक स्कूल में करवाने के लिए गुड़गांव बुलावाया। शिक्षिका के मुताबिक 2015 में वह बच्चों के साथ गुड़गांव गई तो वहां अकेला पाकर ननदोई ने उसके साथ दुष्कर्म किया। विरोध किया तो बच्चों की जिंदगी बर्बाद करने और जान से मारने की धमकी देने लगा। बच्चों का दाखिला होने के बाद शिक्षिका लखनऊ वापस आ गई।

आरोप है कि ननदोई जब भी ससुराल आता उसके साथ दुष्कर्म करता। इसकी जानकारी उसने ननद और ससुर को दी। दोनों ने शिकायत को अनसुना कर दिया, उल्टे उसे ही मुंह बंद रहने के लिए धमकाया।

पीड़िता के मुताबिक मंगलवार दोपहर वह अपने कमरे में थी। अचानक ससुर, ननद और घर का नौकर उनके कमरे में आ धमके और उसकी पिटाई शुरू कर दी। चीखपुकार सुनकर पड़ोसी दरवाजे पर पहुंचे तो ससुराली मौके से भाग निकले। लोगों ने पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना दी। मौके पर पहुंची आशियाना पुलिस पारिवारिक विवाद बताकर वापस चली गई।

पीड़िता शनिवार को अपने रिश्तेदारों के साथ महिला थाने पहुंची। प्रभारी निरीक्षक शारदा चौधरी के मुताबिक पीड़िता की तहरीर पर ससुर, ननद, ननदोई और नौकर के खिलाफ दुष्कर्म, हत्या के प्रयास सहित कई अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए संभावित ठिकानों पर छापेमारी की जा रही है।

Related Articles

Live TV
Close