जय श्रीराम’ के नारे लगाने वालों पर बंगाल में बरसीं लाठियां, भाजपा कार्यकर्ताओं ने ट्रेन रोककर किया प्रदर्शन

कोलकाता, जेएनएन। तृणमूल कांग्रेस नेता व मंत्रियों के सामने ‘जय श्रीराम’ का नारा लगाने वाले भाजपा कार्यकर्ताओं पर शनिवार को जमकर लाठियां बरसीं। इसके विरोध में भाजपा का झंडा थामे कार्यकर्ताओं ने कांचरापाड़ा स्टेशन पर ट्रेन रोककर प्रदर्शन किया।

नैहट्टी में की गई घोषणा के मुताबिक 14 जून को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी कांचरापाड़ा में कार्यकर्ता सम्मेलन करेंगी, जिसकी तैयारियों को लेकर शनिवार को उत्तर 24 परगना तृणमूल महिला संगठन की सचिव आलोरानी सरकार के कांचरापाड़ा स्थित आवास पर तृणमूल नेतृत्व की बैठक थी। इसमें उत्तर 24 परगना जिले के तृणमूल प्रभारी व राज्य के खाद्य मंत्री ज्योतिप्रिय मल्लिक, अग्निशमन मंत्री सुजीत बसु, पूर्व मंत्री मदन मित्रा, विधायक निर्मल घोष सहित कई नेता मौजूद थे।

बैठक की पूर्व सूचना पाकर कांचरापाड़ा स्टेशन रोड पर पहले से ही सैकड़ों भाजपा कार्यकर्ता जुटे हुए थे। तृणमूल नेताओं की गाडि़यों के सामने भाजपा कार्यकर्ता ‘जय श्रीराम’ और बाद में उन नेताओं के नाम लेकर ‘गो बैक’ के नारे लगाने लगे। इसे लेकर पुलिस और भाजपा कार्यकर्ताओं के बीच धक्का-मुक्की शुरू हो गई और फिर हंगामा मच गया। स्थिति को नियंत्रित करने के लिए पहले से ही तैनात रैपिड एक्शन फोर्स (आरएएफ) ने लाठीचार्ज कर दिया। परिस्थिति बिगड़ती देख स्थानीय व्यवसायियों ने अपनी दुकानों के शटर गिरा दिए। हंगामा की वजह से कई लोगों को हल्की चोट भी लगी।

दफ्तर कब्जाने को लेकर विवाद
प्रदर्शनकारी भाजपा कार्यकर्ताओं का आरोप है कि शुभ्रांशु राय को ‘छोटा गद्दार’ कहने तथा थाना मोड़ स्थित भाजपा कार्यालय पर कब्जा करने की तृणमूल नेताओं के कोशिश के विरोध में उन्होंने प्रदर्शन किया है। भाजपा समर्थकों का दावा है कि पार्टी ऑफिस मुकुल राय के बेटे व चंद दिन पहले तक तृणमूल में रहे विधायक शुभ्रांशु राय के नाम पर है। उन्होंने मंगलवार को भाजपा की सदस्यता ले ली है, इसलिए अब यह कार्यालय भाजपा का है। उधर, शुभ्रांशु राय का भी स्पष्ट कहना है कि तृणमूल के लोग अगर पार्टी कार्यालय पर दावे से संबंधित कोई भी कागजात दिखा दें तो हम उस कार्यालय से दावा छोड़ने को तैयार हैं। जब शुभ्रांशु से पूछा गया कि आप क्या करेंगे तो उन्होंने कहा, मैं दीदी को कहूंगा जय श्रीराम।

तृणमूल फैला रही अशांति : अर्जुन
बैरकपुर के नवनिर्वाचित भाजपा सांसद अर्जुन सिंह ने आरोप लगाया कि इलाके में बाहर से लोगों को लाकर तृणमूल अशांति फैलाने की कोशिश कर रही है। इसके जवाब में तृणमूल के उत्तर 24 परगना प्रभारी ज्योतिप्रिय मल्लिक ने कहा कि अर्जुन सिंह की बातों को गंभीरता से लेने की जरूरत नहीं है। जिन-जिन पार्टी कार्यालयों पर अवैध कब्जा किया गया है, सब मुक्त होंगे। इसकी शुरुआत आज नैहाटी से हो गई है।

ग्राम पंचायत पर भी भाजपा ने शुरू किया कब्जा
बैरकपुर संसदीय क्षेत्र की चार नगरपालिकाओं पर कब्जा करने के बाद अब भाजपा ने ग्राम पंचायतों पर भी कब्जा शुरू कर दिया है। स्थानीय भाजपा सांसद अर्जुन सिंह के नेतृत्व में शनिवार को काउगाछी एक नंबर ग्राम पंचायत के सभी सदस्यों ने भाजपा का दामन थाम लिया है। इस ग्राम पंचायत में पंचायत प्रधान समेत 24 सदस्य तृणमूल कांग्रेस के थे। सभी सदस्यों ने शनिवार को भाजपा का दामन थाम लिया है इसलिए इस ग्राम पंचायत पर अब भाजपा का कब्जा हो गया है।

Related Articles

Live TV
Close