BJP और TMC समर्थकों के बीच हिंसक झड़प, चार भाजपा कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या

BJP और TMC समर्थकों के बीच हिंसक झड़प, चार भाजपा कार्यकर्ताओं की गोली मारकर हत्या

कोलकाता : उत्तर 24 परगना जिले के संदेशखाली के नैजाट थाना अंतर्गत दो नंबर ब्लॉक में शनिवार को पार्टी झंडा लगाने को लेकर भाजपा और तृणमूल कांग्रेस समर्थकों के बीच हिंसक झड़प हो गयी. घटना में भाजपा के चार और तृणमूल कांग्रेस के एक समर्थक की मौत की सूचना है. मामले को लेकर भाजपा नेता मुकुल राय ने कहा कि टीएमसी के गुंडों ने हमला किया और हमारे चार कार्यकर्ताओं की गोली मार कर हत्या कर दी. टीएमसी नेता और मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी इस आतंक में शामिल है. हमने मामले को लेकर गृह मंत्री अमित शाह, कैलाश विजयवर्गीय और प्रदेश प्रमुख को मैसेज भेज दिया है.

आगे राय ने कहा कि सांसदों का एक दल सोमवार को संदेशखाली का जायजा लेने के लिए जाएगा. सांसद वहां से लौटने के बाद एक रिपोर्ट तैयार करेंगे और गृह मंत्रालय को भेजेंगे. हम इस हत्याकांड का विरोध लोकतांत्रिक तरीके से करेंगे. मामले को लेकर भाजपा के राष्ट्रीय सचिव कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि केंद्रीय गृह मंत्री ने राज्य सरकार से रिपोर्ट मांगी है और मुझे यकीन है कि केंद्र इसे गंभीरता से लेगा। घटना को लेकर लोगों में काफी गुस्सा है.

जानकारी के अनुसार, पिछले कई दिनों से भाजपा समर्थक संदेशखाली के विभिन्न क्षेत्रों में पार्टी का झंडा व बैनर लगा रहे थे. इसका तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ता विरोध कर रहे थे. मामले में शनिवार की शाम संदेशखाली में तृणमूल कांग्रेस की ओर से रैली निकाली गयी थी. आरोप है कि उसी समय कुछ लोगों ने रैली पर कई राउंड फायरिंग की. एक गोली तृणमूल कांग्रेस कार्यकर्ता कय्यूम मोल्ला (24) के सिर पर जा लगी. इसके बाद अपराधियों ने उस पर धारदार हथियार से कई वार उसे मौत के घाट उतार दिया. इसके बाद तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं द्वारा भी भाजपा समर्थकों पर गोलीबारी करने का आरोप लगा है.

वरिष्ठ भाजपा नेता मुकुल राय ने शनिवार को ट्वीट कर जानकारी दी कि संदेशखाली में तृणमूल कांग्रेस से जुड़े बदमाशों ने भाजपा के तीन कार्यकर्ताओं की गोली मार कर हत्या कर दी है. वह इस घटना के बारे में गृहमंत्री अमित शाह से मिल कर शिकायत करेंगे. रविवार को राय ने चार कार्यकर्ताओं के मारे जाने की पुष्‍टि की है.

तीन भाजपा कार्यकर्ताओं की पहचान
भाजपा सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, गोलीबारी में मारे गये भाजपा कार्यकर्ताओं की पहचान प्रदीप मंडल, तपन मंडल व सुकांत मंडल के रूप में हुई है. बताया गया है कि प्रदीप मंडल भाजपा के एससी मोर्चा के मंडल सभापति थे, जबकि  तपन मंडल शक्तिकेंद्र प्रमुख व सुकांत मंडल भाजपा के सक्रिय कार्यकर्ता थे. भाजपा का कहना है कि पार्टी के कई समर्थक घायल हैं. शंकर मंडल, देवदास मंडल, संजय मंडल और संजय मंडल का दामाद घटना के बाद से लापता हैं.घटना के बाद इलाके में बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों और  रैफ की तैनाती की गयी है.

तृणमूल का दावा
उधर, तृणमूल ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर इस घटना का जिक्र किया है. इसमें दावा किया गया है कि तृणमूल की जनसभा में भाजपा के कार्यकर्ताओं ने घुसकर गोली चलायी, जिसकी वजह से तृणमूल कार्यकर्ता की मौत हुई है. उल्लेखनीय है कि पिछले सप्ताह भी बशीरहाट लोकसभा क्षेत्र में तीन लोगों की हत्या हुई थी. इसमें दो तृणमूल और एक भाजपा के कार्यकर्ता थे.

WordPress › Error

The site is experiencing technical difficulties.