डॉक्टरों की देशव्यापी हड़ताल, एम्स भी समर्थन में आया

एम्स के जूनियर डॉक्टर पर आज हुए हमले के बाद डॉक्टरों की हड़ताल को समर्थन देने का ऐलान एम्स डॉक्टरों ने भी किया। रेजिडेंट डॉक्टर ऑफ एम्स की ओर से पत्र जारी कर इस फैसले की जानकारी दी गई। आरडीए ने कहा कि डॉक्टरों पर हुई हिंसा के विरोध में और डॉक्टरों की सुरक्षा के समर्थन में यह फैसला लिया गया।

नई दिल्ली 
डॉक्टरों की सुरक्षा को लेकर इंडियन मेडिकल असोसिएशन की ओर से बुलाई देशव्यापी हड़ताल में अब एम्स के डॉक्टर भी शामिल हो गए हैं। पहले एम्स ने इस हड़ताल से खुद को अलग रखने का ऐलान किया था। सोमवार को देश भर के करीब 5 लाख डॉक्टर अपनी सुरक्षा की मांग को लेकर हड़ताल पर हैं। आज करीब 1 बजे (AM) एम्स के एक जूनियर डॉक्टर पर हुए हमले के बाद आपातकाली जनरल बॉडी मीटिंग बुलाई गई, जिसके बाद एम्स डॉक्टरों ने भी हड़ताल में शामिल होने का फैसला किया।रेजिडेंट डॉक्टर्स ऑफ एम्स (आरडीए) की तरफ से पत्र जारी कर हड़ताल में शामिल होने की घोषणा की गई। पत्र के अनुसार, ‘सोमवार को

जयप्रकाश नारायण ट्रॉमा सेंटर में एक जूनियर डॉक्टर पर करीब 1 बजे (AM) कुछ लोगों ने हमला किया। बंगाल में डॉक्टरों के साथ हुई हिंसा के खिलाफ एम्स रेजिडेंट डॉक्टरों ने सबसे पहले आवाज उठाई थी। हम डॉक्टरों की सुरक्षा की मांग के समर्थन में देश भर के डॉक्टरों के साथ हैं।’

Related Articles

Live TV
Close