राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के अभिभाषण की 12 अहम बातें

17वीं लोकसभा के संयुक्त अधिवेशन को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने संबोधित किया.

राष्ट्रपति कोविंद ने सभी सांसदों को सांसद चुने जाने पर बधाई दी.

उन्होंने मतदाताओं की भागीदारी के लिए बधाई दी और लोकसभा के नए अध्यक्ष ओम बिड़ला को भी शुभकामनाएं दीं.

राष्ट्रपति के अभिभाषण की 10 अहम बातें

  • इस लोकसभा में क़रीब आधे सांसद पहली बार चुने गए हैं. 78 महिलाओं का चुना जाना भारतीय लोकतंत्र की सहभागिता को दर्शाता है. इस चुनाव में देश की जनता ने बहुत ही स्पष्ट जनादेश दिया है. सरकार के कामकाज़ के देखते हुए जनता ने और मज़बूत जनादेश दिया है.
  • साल 2014 से पहले देश का माहौल निराशाजनक था और उसके बाद 2014 में तीन दशक बाद स्पष्ट बहुमत मिला. मेरी सरकार ने सबका साथ सबका विकास के सिद्धांत पर काम किया. जो हाशिए पर हैं उनके जीवन में सरकार ने उम्मीद जगाई और उनके हालात बेहतर किए.
  • हमारी सरकार लोगों को सुविधायुक्त और बंधनमुक्त बनाना चाहती है. मेरी सरकार राष्ट्रनिर्माण की उस सोच पर चल रही है जिसकी नींव 2014 में रखी गई थी. सरकार की यात्रा सबका साथ, सबका विकास और विश्वास के सिद्धांत पर आगे बढ़ रही है.
  • यह नया भारत गुरुदेव रविंद्र नाथ टैगोर के दर्शन पर आगे बढ़ेगा जहां हर कोई बिना डरे जीवन यापन करेंगे. हमारी सरकार ग्रामीण भारत को मज़बूत बनाएगी. युवा भारत और तेज़ी से आगे बढ़ेगा. हमारी सरकार नए लक्ष्यों को पूरा करेगी.
  • नेशनल डिफेंस फंड’ से वीर जवानों के बच्चों को मिलने वाली स्कॉलरशिप की राशि बढ़ा दी गई है. इसमें पहली बार राज्य पुलिस के जवानों के बेटे-बेटियों को भी शामिल किया गया है.
  • हमें अपने बच्चों और आने वाली पीढ़ियों के लिए पानी बचाना ही होगा. नए ‘जलशक्ति मंत्रालय’ का गठन, इस दिशा में एक निर्णायक क़दम है जिसके दूरगामी लाभ होंगे. इस नए मंत्रालय के माध्यम से जल संरक्षण एवं प्रबंधन से जुड़ी व्यवस्थाओं को और अधिक प्रभावी बनाया जाएगा.
  • ग्रामीण भारत को मज़बूत बनाने के लिए बड़े पैमाने पर निवेश किया गया है. कृषि क्षेत्र की उत्पादकता को बढ़ाने के लिए, आने वाले वर्षों में 25 लाख करोड़ रुपए का और निवेश किया जाएगा.
  • आज भारत मत्स्य उत्पादन के क्षेत्र में दुनिया में दूसरे स्थान पर है. हमारे देश में प्रथम स्थान पाने की क्षमता है. इसीलिए सरकार, ‘ब्लू रिवॉल्युशन’ यानी ‘नीली क्रांति’ के लिए प्रतिबद्ध है. मछली पालन के समग्र विकास के लिए एक अलग विभाग गठित किया गया है.
  • 50 करोड़ ग़रीबों को ‘स्वास्थ्य-सुरक्षा-कवच’ प्रदान करने वाली विश्व की सबसे बड़ी हेल्थ केयर स्कीम ‘आयुष्मान भारत योजना’ लागू की गई है.
  • महिला सशक्तीकरण, मेरी सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकताओं में से एक है. नारी का सबल होना और समाज और अर्थव्यवस्था में उनकी प्रभावी भागीदारी, एक विकसित समाज की कसौटी होती है. सरकार की यह सोच है कि न केवल महिलाओं का विकास हो बल्कि महिलाओं के नेतृत्व में विकास हो.
  • प्रधानमंत्री मुद्रा योजना’ के तहत, स्वरोजगार के लिए लगभग 19 करोड़ ऋण दिए गए हैं. इस योजना का विस्तार करते हुए अब 30 करोड़ लोगों तक इसका लाभ पहुंचाने का प्रयास किया जाएगा. उद्यमियों के लिए बिना गारंटी 50 लाख रुपए तक के ऋण की योजना भी लाई जाएगी.
  • सरकार द्वारा सामान्य वर्ग के ग़रीब युवाओं के लिए 10 प्रतिशत आरक्षण का प्रावधान किया गया है. इससे उन्हें नियुक्ति और शिक्षा के क्षेत्र में और अवसर प्राप्त हो सकेंगे.
  • देश में हर बहन-बेटी के लिए समान अधिकार सुनिश्चित करने हेतु ‘तीन तलाक़’ और ‘निकाह-हलाला’ जैसी कुप्रथाओं का उन्मूलन ज़रूरी है. मैं सभी सदस्यों से अनुरोध करूंगा कि हमारी बहनों और बेटियों के जीवन को और सम्मानजनक एवं बेहतर बनाने वाले इन प्रयासों में अपना सहयोग दें.

 

You Might Also Like