दिखेगा लोकल कलाकारों का हुनर

दिखेगा लोकल कलाकारों का हुनर

अभिषेक टंडन ने बताया कि हमने मुंबई या किसी बाहरी कलाकार के बजाए लखनऊ के कलाकारों को मौका दिया है। इसमें शहर के करीब 20-22 कलाकारों को लिया गया है, जिन्होंने उम्दा ऐक्टिंग की है। सभी किरदारों को अच्छे रोल दिए गए हैं। किरदार सीरीज की कहानी का बेस सस्पेंस है, इसलिए अगस्त में इसके रिलीज होने पर शहर के कलाकारों का हुनर खुद-ब-खुद सबके सामने होगा। 30 दिसंबर, डोरबेल और लखेरे जैसी शॉर्ट फिल्म देने वाले अभिषेक टंडन ने इस वेब सीरीज की स्टोरी, डायलॉग, स्क्रीनप्ले लिखने के साथ ही डायरेक्शन भी खुद किया है।बॉलिवुड की गलियों में ‘आर्टिकल 15’ से लखनऊ फिर चमक रहा है। मार्च-अप्रैल में शूट हुई फिल्म ‘आर्टिकल 1’5 शुक्रवार को रिलीज हो गयी। फिल्म में मलिहाबाद, माल, अर्जुनगंज, सुल्तानपुर रोड, महानगर की पीएसी कॉलोनी, एपी सेन रोड सहित कई अन्य लोकेशंस नजर आ रही हैं। साथ ही नजर आ रहे हैं शहर के वे कलाकार, जिन्होंने फिल्म के लीड हीरो आयुष्मान खुराना के अलावा मनोज पाहवा, कुमुद मिश्रा, सायनी गुप्ता जैसे बड़े कलाकारों के साथ महत्वपूर्ण किरदार निभाकर पर्दे पर अपनी भरपूर मौजूदगी दर्ज कराई है। हम आपको शहर के इन्हीं कलाकारों के बारे में बता रहे हैं

आयुष्मान खुराना ने की थी बहुत तारीफ: जिया खान

लखनऊ में शूट हुई ‘इशकजादे’, ‘डेढ़ इिश्कया’, ‘जॉली एलएलबी-2’, ‘रेड’ जैसी कई फिल्मों का हिस्सा रह चुके चौक के जिया खान फिल्म में मरने वाली दूसरी लड़की के पिता बने हैं। उन्होंने बताया कि फिल्म में मेरा दस दिन का शेड्यूल था लेकिन लगातार शूटिंग न होने की वजह से करीब एक महीना लग गया। मुझे कभी-कभी देर रात शूटिंग स्पॉट पर पहुंचना पड़ता था। आयुष्मान खुराना मुझसे और राजू से बहुत इम्प्रेस हुए थे। हम गांववालों के गेटअप में ही तैयार होकर शूटिंग में पहुंचते थे। पहली बार आयुष्मान मिले तो उन्हें लगा कि हम सब गांववाले हैं लेकिन जब उन्हें बाद में पता चला कि हम ऐक्टर हैं तो उन्होंने हमारी बहुत तारीफ की। सबसे खास बात यह थी कि मैं पूरा गेटअप लेकर घर से ही निकलता था। वहां पर मेकअप के बाद तो कोई पहचान ही नहीं सकता कि हम कौन हैं। मैं 1981 से थिएटर कर रहा हूं। मेरी खुशनसीबी है कि मुझे आयुष्मान खुराना के साथ तीन फिल्में करने का मौका मिल रहा है। वर्तमान में मैं ‘बाला’ की शूटिंग लखनऊ में कर रहा हूं। जुलाई में अमिताभ बच्चन की ‘गुलाबो-सिताबो’ में भी मुझे आयुष्मान जी के साथ काम करना है।

शूटिंग के लिए बड़ी मुश्किल से उदयपुर से लखनऊ पहुंचा: राजू पाण्डेय

अनुभव सिन्हा की फिल्म ‘मुल्क’ के बाद ‘अभी तो पार्टी शुरू हुई है’ में काम कर चुके अलीगंज के राजू पाण्डेय फिल्म ‘आर्टिकल 15’ में महेंद्र का किरदार निभा रहे हैं। वह उस दलित लड़की के पिता बने हैं, जिसे तीन रुपये ज्यादा मजदूरी मांगने पर रेप के बाद मारकर पेड़ से लटका दिया जाता है। राजू ने बताया कि मेरे ज्यादातर सीन दूसरी लड़की के पिता का किरदार निभा रहे शहर के जिया खान के साथ हैं। हम वो पिता बने हैं, जिन्हें पीड़ित होने के बावजूद पुलिस का भ्रष्ट डिपार्टमेंट ऑनर किलिंग में दोषी साबित करने में लगा रहता है। फिल्म को लेकर मेरा दस दिन का शूटिंग शेड्यूल था। मेरे मुख्य सीन अर्जुनगंज के पास राजाखेड़ा गांव (जहां अंबेडकर की मूर्ति दिखाई गई), मलिहाबाद के थाने, एपी सेन रोड पर आयुष्मान खुराना के घर और महानगर की पीएसी कॉलोनी में बनाए गए हॉस्पिटल पर शूट किए गए। मैं बीएनए रेपटरी में बतौर अभिनेता कई साल से काम कर रहा हूं। उस वक्त उदयपुर में मेरा तीन दिन का फेस्टिवल चल रहा था। मुझे इस फिल्म में काम करने के लिए कहा जा रहा था इसलिए मैं फेस्टिवल खत्म होते ही रात में बस से निकला। पहले मैं बस से चला और फिर बड़ी मुश्किल से जनरल का टिकट लेकर कानपुर पहुंचा और फिर लखनऊ और दो मार्च से मैंने शूटिंग शुरू की।

विवेक ने कास्टिंग संग निभाया रोल

अनुभव सिन्हा की फिल्म की सेकंडरी कास्टिंग शहर के विवेक यादव ने की है। उन्होंने फिल्म में एक छोटा और महत्वपूर्ण किरदार भी निभाया है। वह ऐक्टिविस्ट बने जीशान अयूब खान के राइट हैंड हैं, जिसमें उनका नाम नोकाई है। विवेक बताते हैं कि मेरे जीशान, सायनी गुप्ता और कुमुद मिश्राजी के साथ सीन्स मलिहाबाद और गोसाइगंज में शूट किए गए। मैंने किरदार की जरूरत के मुताबिक इस रोल को किया। मैं थिअटर भी कर चुका हूं इसलिए ऐक्टिंग में कोई परेशानी नहीं हुई। अनुभव जी ने मुझे इसके लिए कहा था। वैसे फिल्म में मेरा काम सेकंडरी और टर्शरी कास्टिंग का था। हमने शहर से कुल 50-55 लोगों को लिया था, जो फिल्म में हैं। इसके अलावा, अनुभव सिन्हा की ‘मुल्क’ और ‘अभी तो पार्टी शुरू हुई है’ की कास्टिंग भी मैं कर चुका हूं। फिल्म के दौरान कास्टिंग के कई टफ टास्क भी मिले। कहानी जिन तीन लड़कियों पर बेस्ड है, उनको तक हमने मुंबई की बजाए लखनऊ से ही कास्ट किया था।

पहली बार फिल्मी पर्दे पर नजर आईं आलमनगर की श्रेया

आलमनगर की श्रेया अवस्थी पहली बार फिल्मी पर्दे पर नजर आईं तो बधाई देने वालों की लाइन लग गई। आर्टिकल 15 में श्रेया ने अर्चना का किरदार निभाया है, जो सत्येंद्र की पत्नी बनी हैं। श्रेया बताती हैं कि मैं तीन साल से थिएटर कर रही हूं। फिल्म में मैं एक प्रेग्नेंट महिला का किरदार निभा रही हूं। मेरे आयुष्मान खुराना के साथ कई सीन हैं। पहला सीन आयुष्मान के मेरे घर आने, दूसरा उनसे फोन पर पति सत्येंद्र के गायब होने की बात करने और तीसरा आयुष्मान से मिलने पुलिस थाने जाने वाला है। फिल्म में मेरे आयुष्मान के साथ आठ-नौ डायलॉग्स हैं

लखनऊ के कलाकारों की मांग दिनों दिन बढ़ती जा रही है। अगस्त के पहले हफ्ते में आ रही वेब सीरीज किरदार में शहर के कलाकार मुख्य भूमिका में होंगे। इस वेब सीरीज की शूटिंग गोमतीनगर, महानगर, कालीजी मंदिर, इमामबाड़ा सहित पुराने लखनऊ में की गई है। यूपी के अलावा वेब सीरीज की शूटिंग उत्तराखंड में भी की गई है। इस सस्पेंस थ्रिलर वेब सीरीज में मुख्य किरदार शहर के शिवेंद्र वर्मा निभा रहे हैं।

यूपी के अलावा उत्तराखंड में हुई शूटिंग

लखनऊ से ताल्लुक रखने वाले वेब सीरीज के डायरेक्टर अभिषेक टंडन बताते हैं कि इस वेब सीरीज में शहर के कलाकारों के साथ ही कई बड़े कलाकार भी नजर आएंगे। इसमें गोविंदा, प्रेम चोपड़ा और अवतार गिल भी नजर आएंगे। इस वेब सीरीज की जान इसकी कहानी है, जो लोगों को काफी पसंद आएगी। इसकी शूटिंग यूपी के अलावा उत्तराखंड में की गई है। वेब सीरीज में विजय पंडित नाम के अंडरवर्ल्ड क्रिमिनल की कहानी दिखाई गई है, जो नोएडा में बम ब्लास्ट करके सबको हिला देता है।

दिखेगा लोकल कलाकारों का हुनर

अभिषेक टंडन ने बताया कि हमने मुंबई या किसी बाहरी कलाकार के बजाए लखनऊ के कलाकारों को मौका दिया है। इसमें शहर के करीब 20-22 कलाकारों को लिया गया है, जिन्होंने उम्दा ऐक्टिंग की है। सभी किरदारों को अच्छे रोल दिए गए हैं। किरदार सीरीज की कहानी का बेस सस्पेंस है, इसलिए अगस्त में इसके रिलीज होने पर शहर

के कलाकारों का हुनर खुद-ब-खुद सबके सामने होगा। 30 दिसंबर, डोरबेल और लखेरे जैसी शॉर्ट फिल्म देने वाले अभिषेक टंडन ने इस वेब सीरीज की स्टोरी, डायलॉग, स्क्रीनप्ले लिखने के साथ ही डायरेक्शन भी खुद किया है।

You Might Also Like