बेकाबू हुआ ट्रक, टैंपो को टक्कर मारते हुए होटल में जा घुसा, तीन की ले ली जान,

बेकाबू हुआ ट्रक, टैंपो को टक्कर मारते हुए होटल में जा घुसा, तीन की ले ली जान,

ट्रक चालक से पुलिस की वसूली के चलते लखनऊ में पीजीआई क्षेत्र की वृंदावन कॉलोनी सेक्टर-8 के अमृता विद्यालय के पास मंगलवार सुबह करीब 5 बजे एक के बाद एक तीन हादसे में तीन लोगों की मौत हो गई जबकि तीन गंभीर रूप से घायल हो गए।

सूत्रों के मुताबिक, बाइक सवार दो पुलिसकर्मियों ने जब यूकलिप्टस की लकड़ी से लदे ट्रक को रोकने के लिए उसे ओवरटेककर सामने कुछ दूरी पर बाइक रोक दी तो ट्रक के अचानक ब्रेक लगाने से पीछे से आ रही डीसीएम ट्रक में घुस गई। यहां से भागने में करीब तीन किलोमीटर आगे ट्रक चालक ने रायबरेली रोड के पास शहीद पथ से नीचे उतरते समय टेंपो को टक्कर मार दी। इसके बाद अनियंत्रित ट्रक एक होटल में घुस गया। हादसा होते ही वहां से पुलिसकर्मी भाग गए। उन्होंने न तो पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना दी न ही अपने उच्चाधिकारियों को। राहगीरों ने पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना दी।

जानकारी के मुताबिक, ट्रक और डीसीएम दोनों कमता से शहीद पथ पर चढ़े थे तभी उनके पीछे बाइक सवार दो पुलिसकर्मी भी लग गए। ट्रक का पीछा करते हुए पुलिसकर्मी अवध विहार तक पहुंचे। हालांकि पीजीआई इंस्पेक्टर अशोक सरोज ने हादसे के इस कारण के बारे में जानकारी होने से इनकार कर दिया। पुलिस के मुताबिक घायलों के होश में आने के बाद ही पीछा करने की पुष्टि हो सकेगी।

जिस होटल में ट्रक घुसा था वह शरीफ का था। मकान का एक कमरा ध्वस्त हो गया वहीं मकान के एक कोने में अंजलि स्वीट्स के नाम का होटल मलबे में बदल गया।

डीसीएम व ट्रैंपो चालक समेत तीन की मौत

हादसे में डीसीएम सवार चालक रामपुर, वफीदपुर निवासी फिरासत उर्फ गुड्डू (36) व मिलाक निवासी खलासी एहसान अली (35) की मौके पर मौत हो गई, जबकि वहीं मिलाक निवासी मुजावर उर्फ बिंदू (26) घायल हो गया।

वहीं टेंपो चालक रायबरेली बछरावां के कुर्री निवासी नन्हके (45) की लोकबंधु अस्पताल में मौत हो गई। वहीं ट्रक के होटल में घुसने से ट्रक चालक सीतापुर इमलिया निवासी अनिल व सांसापुर निवासी खलासी संदीप घायल हो गए। दोनों घायलों को पुलिस ने सिविल अस्पताल में भर्ती कराया।

7 घंटे बचाव कार्य, हाईवे जाम
हादसे के बाद सात घंटे तक राहत कार्य चला। इससे रायबरेली रोड व शहीद पथ के एक हिस्से में जाम लग गया। वहीं एसडीआरएफ की 16 सदस्यीय टीम सुबह करीब 10 बजे घटनास्थल पर पहुंच गई। स्थानीय पुलिस क्रेेन व जेसीबी से ट्रक व डीसीएम के क्षतिग्रस्त हिस्से से घायलों को बाहर निकालने मे लगी रही। दोपहर 12.15 बजे से बचाव कार्य शुरू किया। ट्रक से दो लोगों को निकाल कर सिविल अस्पताल में भर्ती कराया। इसी बीच एसडीआरएफ की टीम ने ट्रक कोरेस्टोरेंट में से एक को बाहर निकाला।

You Might Also Like