योगी ने शुरू की सीएम हेल्पलाइन 1076, खुद करेंगे निगरानी

योगी ने शुरू की सीएम हेल्पलाइन 1076, खुद करेंगे निगरानी

उत्तर प्रदेश लखनऊ  में सरकारी विभागों से जुड़ा अगर आपका कोई भी काम नहीं हो रहा है। सरकारी अधिकारी-कर्मचारी उसमें अड़ंगा लगा रहे हैं या फिर अन्य कोई दिक्कत है तो अब आप अपनी शिकायत सीएम हेल्पलाइन पर कर समस्या का समाधान करा सकते हैं। गुरुवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सीएम हेल्पलाइन 1076 की शुरुआत की।

लोकभवन में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री हेल्पलाइन शुरू की गई। सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कोई भी व्यक्ति 1076 पर कॉल करके अपनी समस्या बता सकता है। हेल्पलाइन पर कोई भी शिकायत करने के बाद उस पर संबंधित विभाग की ओर कार्यवाई की जाएगी। संबंधित विभाग को इस शिकायत के निस्तारण का काम दे दिया जाएगा।

शिकायत करने के 3-4 दिन के भीतर शिकायतकर्ता से इस बात की जानकारी ली जाएगी कि उनके द्वारा की गई शिकायत का निस्तारण हुआ की नहीं। इतना ही नहीं शिकायतकर्ता ही यह वैरिफाई करेगा कि उसकी समस्या का समाधान हो गया है। इतना ही नहीं जो जिन अधिकारियों के द्वारा समस्या का समाधान नहीं किया जाएगा। उनके खिलाफ भी ऐक्शन लिया जाएगा।

इसलिए शुरू की सीएम हेल्पलाइन
सीएम ने कहा कि जब उन्होंने जनता दर्शन शुरू किया तो रोज 4000-5000 लोग आते थे। साल भर में अलग अलग माध्यम से 22 लाख शिकायतें उनके पास आईं जिनमें से बीस लाख का समयबद्ध निस्तारण किया गया। लेकिन इसके लिए लोगों को सैकड़ों किमी दूर से लखनऊ आना पड़ा। लोगों पर आर्थिक बोझ पड़ा। सीएम हेल्पलाइन हो जाने से लोगों को अब लखनऊ तक की दौड़ नहीं लगानी पड़ेगी।

सीएम खुद करेंगे सत्यापन
सीएम ने अधिकारियों से कहा कि सीएम हेल्पलाइन में आने वाली शिकायतों को गंभीरता से लें और उनका निस्तारण करें। उन्होंने चेतावनी दी की हर महीने के अंत में वे हेल्पलाइन में आई शिकायतों में से सौ मामले चुनेंगे और शिकायतकर्ता से खुद फीडबैक लेंगे। अगर शिकायतकर्ता संतुष्ट नहीं हुआ तो संबंधित अधिकारी की जवाबदेही तय होगी और उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। इसे अधिकारियों के एसीआर से जोड़ा जाएगा। खराब प्रदर्शन न करने वालों की छुट्टी होगी।