काला हिरण शिकार मामले को लेकर Salman Khan की मुश्किलें बढ़ीं

काला हिरण शिकार मामले को लेकर Salman Khan की मुश्किलें बढ़ीं

नई दिल्ली,  अभिनेता सलमान खान से जुड़े काला हिरण शिकार मामले को लेकर करीब 20 साल से चल रहे केस को लेकर गुरुवार को जोधपुर कोर्ट में सुनवाई हुई है। इसमें जोधपुर कोर्ट ने कहा है कि अगर सलमान खान अगली सुनवाई में कोर्ट नहीं आते हैं तो उनकी बेल को रिजेक्ट कर दिया जाएगा।

 

करीब 20 साल से चल रहे सलमान खान से जुड़े काला हिरण शिकार मामले पर आज यानि गुरुवार को दोबारा जोधपुर कोर्ट में सुनवाई हुई है। कोर्ट में इस बार सलमान खान नहीं पहुंचे। इस कारण जोधपुर कोर्ट ने कहा है कि अगर सलमान खान अगली सुनवाई में कोर्ट नहीं आते हैं तो उनकी बेल को रिजेक्ट कर दिया जाएगा। ऐसे में कोर्ट ने सलमान को अगली डेट भी दे दी है। अब इस मामले की सुनवाई 27 सितम्बर 2019 को होगी।

दरअसल 1998 में फिल्म ‘हम साथ साथ हैं’ की शूटिंग के दौरान सलमान खान और उनके सह कलाकार सैफ अली खान, तब्बू, नीलम, सोनाली बेंद्रे और दुष्यंत सिंह पर कांकाणी गांव में एक काले हिरण का शिकार करने का आरोप लगा था जिस पर कोर्ट में मुकदमा चल रहा है। इस केस के चलते सलमान को समय-समय पर कोर्ट में हाजिरी लगानी पड़ती है और सुनवाई के लिए भी जाना पड़ता है। हालांकि ऐसा हमेशा है होता कि सलमान अपने केस की सुनवाई के लिए कोर्ट में उपस्थित रहते हैं। लेकिन इस बार सुनवाई में वे मौजूद नहीं थे।

आपको बता दें कि साल 2018 में 5 अप्रैल को जोधपुर सेशन कोर्ट ने इस मामले में सलमान को दोषी करार देते हुए पांच साल की सजा सुनाई थी। वहीं बाकी आरोपियों सैफ अली खान, नीलम, सोनाली, तब्बू और दुष्यंत सिंह को बाइज्जत बरी कर दिया गया था। इसके बाद सलमान ने निचली अदालत के फैसले के विरुद्ध जिला एवं सेशन कोर्ट में अपील की थी। 7 अप्रैल को जिला एवं सेशन कोर्ट ने सलमान के खिलाफ सुनाई गई निचली अदालत की सजा पर रोक लगाते हुए उन्हें सशर्त जमानत दे दी थी। इसके बाद सलमान खान के वकील ने जमानत की अर्जी डाली थी जिस पर अभी भी कार्यवाही हो रही है।

You Might Also Like