Union Budget 2019 : लखनऊ में आशियाने की कीमत को 10 लाख तक घटाएगा बजट

लखनऊ,  केंद्रीय बजट में 45 लाख रुपये तक के होम लोन पर साढ़े तीन लाख की टैक्स बचत का प्राविधान सस्ते मकान बनाने के लिए बिल्डरों को मजबूर कर देगा। राजधानी में औसतन टू बीएचके फ्लैट की कीमत करीब 55 लाख रुपये है। ऐसे में इस औसत की कीमत के करीब 10 लाख रुपये कम होने पर ही लोगों को टैक्स का लाभ मिलेगा, ऐसे में बिल्डर भी इसी दिशा में कदम उठाने को मजबूर होंगे। वे अपनी लागत में कटौती करेंगे या छोटे फ्लैट बनाएंगे, जिससे मध्यम वर्गीय ग्राहकों के लिए राजधानी में आने वाले समय में आवास खरीदना आसान होगा।

 

इससे पहले आवास खरीदने पर जीएसटी में भी सरकार ने भारी कमी थी। बजट में टैक्स छूट को दो से साढ़े तीन लाख बढ़ाना आवासीय क्षेत्र को सकारात्मक बढ़त देने वाला होगा। रियल एस्टेट क्षेत्र के विशेषज्ञ अंकित गर्ग बताते हैं कि बहुत ही अच्छा फैसला है। लखनऊ में विभिन्न कंपनियों के फ्लैट अभी आम मध्यम वर्ग से दूर रहे हैं। कम से कम कीमत में टू बीएचके फ्लैट भी अच्छी लोकेशन पर 55 लाख रुपये का है। आम ग्राहक अब ऐसे फ्लैट तलाशना शुरू करेगा, जिसमें उसको अधिक टैक्स की बचत मिले। कीमत 45 लाख रुपये से कम हो। इसलिए अब बिल्डर सस्ते ही फ्लैट बनाएंगे।

लखनऊ विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष प्रभु एन सिंह बताते हैं कि हमारा तो पूरा ध्यान पहले से ही सस्ते प्रधानमंत्री आवास बनाने के अलावा 25 से 30 लाख रुपये तक के आवास बनाने पर ही है। यही सबसे बड़ा वर्ग है जो मकान खरीदना चाहता है। इसलिए हमारी योजना भविष्य में 30 लाख रुपये से अधिक महंगे फ्लैट बेचने की नहीं है।

Related Articles

Live TV
Close