मुंबई: 8 दिन में पूरा जुलाई का 84% कोटा, मंगलवार को भी भारी बारिश का अनुमान

मुंबई: 8 दिन में पूरा जुलाई का 84% कोटा, मंगलवार को भी भारी बारिश का अनुमान

मुंबई
पिछले सोमवार के एक हफ्ते बाद एक बार फिर मुंबई में भारी बारिश दर्ज की गई। सुबह करीब तीन घंटे में ही सांताक्रूज में 108.2 मिलीमीटर बारिश हुई। मौसम विभाग ने मंगलवार को भी बारिश के तेज होने का अनुमान जताया है। पिछले हफ्ते पैदा हुई स्थिति को ध्यान में रखते हुए प्रशासन ने भी कमर कस ली है। मुंबई पुलिस के कमिश्नर संजय बर्वे ने ट्वीट कर लोगों से सावधानी बरतने की अपील की है।

मौसम विभाग के अनुमान के मुताबिक मुंबई और उपनगर में रुक-रुककर भारी बारिश होने की संभावना है। निजी मौसम एजेंसी स्काइमेट के मुताबिक मुंबई, सबर्अबन मुंबई, पालघर, पुणे, रायगड़, रत्नागिरी और ठाणे में मंगलवार सुबह हल्की बौछारें पड़ने का अनुमान है। मुंबई के कुछ इलाकों में भारी बारिश भी हो सकती है

 

घाटों पर भूस्खलन का अलर्ट
मौसम विभाग पश्चिमी क्षेत्र के उपमहानिदेशक केएस होसिलकर ने बताया है, ‘मॉनसून के सक्रिय होने के कारण पूरे कोंकण क्षेत्र में भारी बारिश हो रही है। मुंबई समेत उत्तर कोंकण बेल्ट में मॉनसून तीव्र बना हुआ है जिस कारण ज्यादातर जगहों पर भारी बारिश हो रही है।’ मौसम विभाग ने पुणे-मुंबई एक्प्रेस हाइवे, मलशेज, खंडाला, माथेरन और तामहिनी जैसे घाटों पर भूस्खलन का अलर्ट जारी किया है।

सावधानी बरतें मुंबईकर
मौसम विभाग के अनुमान के बाद पुलिस कमिश्नर संजय बार्वे ने ट्वीट कर लोगों से सावधानी बरतने को कहा है। उन्होंने ट्वीट किया, ‘भारतीय मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे में भारी बारिश (200 मिमी तक) का अनुमान जताया है। हम मुंबईकरों से आग्रह करते हैं कि सावधानी बरतें और अपनी सुरक्षा का ध्यान रखें। किसी भी आपात स्थिति में 100 डायल करें।’

8 दिन में बरसा जुलाई की औसतन बारिश का 84%
मुंबई में सोमवार रात तक जुलाई की औसत बारिश का 84% हिस्सा बरस चुका था। जुलाई में औसतन 840 मिमी बारिश होती है जबकि सोमवार रात तक 70.87 मिमी बारिश हो चुकी है। जून से अब तक की जाए तो 2,272 मिमी के औसत के मुकाबले 1,315.7 मिमी यानी 57% बारिश हो चुकी है। वहीं, सालाना औसतन 2,515 मिमी बारिश का 52% हिस्सा बरस चुका है। वहीं, ठाणे शहर में सोमवार को दिनभर में 52 मिलीमीटर बारिश हुई। इस साल अब तक कुल 1,340 मिलीमीटर बारिश हुई है। पिछले साल इस अवधि में कुल 1,814 मिलीमीटर बारिश दर्ज हुई थी।

फ्लाइट्स पर असर
बारिश के कारण मुंबई एयरपोर्ट पर विजिबिलिटी कम होने के कारण फ्लाइट ऑपरेशन्स पर काफी असर पड़ा। तीन अराइवल और चार डिपार्चर कैंसल कर दिए गए जबकि तीन फ्लाइट्स को डायवर्ट और 6 फ्लाइट्स को हवा में रखकर देर से लैंडिंग कराई गई। बारिश के रुकने के बाद भी शाम 7 बजे तक फ्लाइट्स में करीब 31 मिनट की देरी देखी गई।

झीलों का जलस्तर बढ़ा, स्टॉक 24.94% पहुंचा
मुंबईकरों के लिए राहत की खबर है। महानगर को पानी आपूर्ति करने वाली झीलों का जलस्तर बढ़ रहा है। बीएमसी से मिली जानकारी के अनुसार, 8 जुलाई सुबह 6 बजे तक इन झीलों में 3,60,925 मिलियन लीटर पानी था, जो कि कुल स्टॉक का 24.94 प्रतिशत है। हालांकि, पिछले साल इस अवधि तक झीलों में 5,31,084 मिलियन लीटर यानी 36.69 प्रतिशत स्टॉक जमा था। अपर वैतरणा में अब भी आपूर्ति से कम का

You Might Also Like