Pakistan: मीडिया को इंटरव्यू दे रही थीं मरियम नवाज, उसके बाद जो हुआ वो बेहद शर्मनाक था

इस्लामाबाद, पाकिस्तान में प्रेस की स्वतंत्रता पर हमले की एक और घटना सामने आई है। गुरुवार को पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ की बेटी मरियम नवाज़ का इंटरव्यू जबरन रोक दिया गया है। एक पाकिस्तानी न्यूज चैनल पर पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज़  की नेता मरियम नवाज़ के इंटरव्यू को शुरू होने के चंद मिनट बाद ही रुकवा दिया गया।

इससे पहले 1 जुलाई को पाकिस्तान के वरिष्ठ पत्रकार हामिद मीर द्वारा पूर्व राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी के इंटरव्यू को प्रसारित होने के कुछ ही मिनटों के भीतर ही रोक दिया गया था।

इंटरव्यू रोके जाने के को लेकर ‘हम न्यूज’ में काम करने वाले पाकिस्तानी पत्रकार नदीम मलिक ने ट्वीट कर बताया कि अभी-अभी मरियम नवाज़ के इंटरव्यू को जबरदस्ती रोक दिया गया है। हालांकि, नदीम मलिक के ट्विटर हैंडल पर मरियम नवाज़ का पूरा इंटरव्यू उपलब्ध था।

वहीं समाचार चैनल ने भी इंटरव्यू रोके जाने के तुरंत बाद अपने ट्विटर हैंडल पर एक बयान पोस्ट किया।समाचार चैनल ने लिखा कि हमारा चैनल एक स्वतंत्र और जिम्मेदार मीडिया में विश्वास करता है। अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता की रक्षा करना हमारे मूल नियमों में से एक है।

बता दें कि इससे पहले मरियम नवाज़ की एक प्रेस कॉन्फ्रेंस दिखाने के लिए तीन पाकिस्तानी समाचार चैनलों को नोटिस जारी किया गया था। उनका प्रेस कॉन्फ्रेंस भी बीच में रोक दिया गया था। इन समाचार चैनलों को पाकिस्तान इलेक्ट्रॉनिक मीडिया नियामक प्राधिकरण  के आदेश पर ऑफ एयर किया गया था। मरयम ने तब इस घटना को अविश्वसनीय और शर्मनाक करार दिया था।

6 जुलाई को मरियम नवाज़ ने जवाबदेही अदालत के न्यायाधीश अरशद मलिक का एक वीडियो जारी किया था, जिसमें मरियम ने बताया कि उनके पिता के खिलाफ सबूतों की कमी होने के बावजूद भी जेल में डाल दिया गया। मरियम ने आरोप लगाया की जज अरशद मलिक ने कथित तौर पर स्वीकार किया है कि नवाज शरीफ को सजा सुनाने के लिए उन्हें धमकी दी गई थी। हालांकि, न्यायाधीश ने नवाज़ शरीफ की बेटी द्वारा लगाए गए आरोपों का खंडन किया था।

आपको यहां पर बता दें कि NAB Court के जज अरशद मलिक ने ही देश के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को पिछले साल अल-अजीजिया स्टील मिल भ्रष्टाचार मामले में सात साल की कैद की सजा सुनाई थी। इसके अलावा उन्‍हें लंदन के आलीशान फ्लैट के मामले में भी सजा सुनाई जा चुकी है

 

Related Articles

Live TV
Close