लखनऊ समेत चार आयुर्वेदिक कॉलेजों में यूजी और पीजी की सीटें बढ़ीं

राजकीय आयुर्वेदिक कॉलेजों में स्नातक (बीएएमएस) और परास्नातक (एमडी) की सीटें बढ़ गई है। आयुष मंत्रालय ने उत्तर प्रदेश में सीटें बढ़ने की अनुमति दे दी है। सीट बढ़ने से इस नए सत्र से यूजी और पीजी की बढ़ी सीटों पर नीट के जरिए छात्र दाखिला ले सकेंगे। इससे पढ़ाई के बाद नए डॉक्टर बनने से आयुर्वेदिक अस्पतालों में मरीजों को अधिक लाभ मिल सकेगा।

आयुष मंत्रालय से मिली अनुमति 
आयुर्वेद निदेशक डॉ. एसएन सिंह ने बताया कि प्रदेश के राजकीय आयुर्वेदिक कॉलेज में पीजी की 15 सीट और यूजी की 80 सीटें बढ़ाई गई हैं। यह सभी सीटें सरकारी कॉलेजों में बढ़ी हैं। इन सीटों पर छात्र इसी सत्र से पढ़ाई कर सकेंगे। यूजी की सीट 320 से बढ़कर 400 हो गई हैं। इनमें लखनऊ में 10, वाराणसी में 20, बांदा के अतर्रा में 30और प्रयागराज हड़िया में 20 सीट बढ़ी है। वहीं, पीजी के लिए लखनऊ के टूड़ियागंज स्थित राजकीय आयुर्वेदिक कॉलेज एवं अस्पताल में 15 सीट बढ़ने से 60 की जगह 75 सीट हो गई हैं।

यहां बढ़ी हैं इतनी सीटें 
लखनऊ- 50 से 60
वाराणसी- 40 से 60
बांदा अतर्रा- 30 से 60
प्रयागराज हड़िया- 40 से 60

Related Articles

Live TV
Close