लखनऊ में पहली बार रक्षा प्रदर्शनी का होगा आयोजन, निवेश बढ़ाने का प्रयास

अगले साल 5 से 8 फरवरी के बीच लखनऊ में पहली बार रक्षा प्रदर्शनी डिफेंस एक्सपो का आयोजन किया जाएगा। इसमें देश के रक्षा उद्योग जगत को अपने उत्पादों और क्षमता को प्रदर्शित करने का मौका मिलेगा।

निजी क्षेत्र भी शामिल : प्रदर्शनी में सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों के साथ-साथ निजी क्षेत्र की रक्षा कंपनियां भी शिरकत करेंगी। यह आयोजन दो साल में एक बार होता है। रक्षा मंत्रालय द्वारा जारी बयान में कहा गया है कि डिफेक्सो इंडिया -2020 की मुख्य थीम ‘रक्षा उत्पादन में उभरता भारत’ होगी। फोकस रक्षा क्षेत्र के डिजिटल रूपांतरण पर होगा।

निवेश बढ़ाने का प्रयास:पिछला डिफेंस एक्सपो चेन्नई में आयोजित किया गया था। सरकार बुंदेलखंड क्षेत्र में स्थापित किए जा रहे रक्षा औद्यौगिक गलियारे में निवेश बढ़ाने के प्रयास कर रही है। तो वहीं दूसरी ओर सरकार उत्तर प्रदेश को रक्षा उत्पादन का एक महत्वपूर्ण केंद्र के रूप में विकसित करना चाहती है।

प्रदेश में नौ आयुध निर्माण कारखाने

प्रदेश में कानपुर, कोरवा, शाहजहांपुर और फिरोजाबाद में पहले से ही नौ आयुध निर्माण कारखाने हैं। राज्य में एचएएल की यूनिटें लखनऊ, कानपुर, कोरवा एवं नैनी में है। गाजियाबाद में भारत इलेक्ट्रॉनिक लिमिटेड की शाखा है। अब रक्षा गलियारे में कई सार्वजनिक क्षेत्र की रक्षा कंपनियों, निजी कंपनियों और विदेशी कंपनियों द्वारा साझेदारी में कारखाने लगाए जाने की तैयारियां चल रही हैं।

Related Articles

Live TV
Close