इस फिल्म अभिनेत्री के शौहर ने 100 रुपये के स्टांप पेपर पर दिया तलाक, जानें पूरा मामला

इस फिल्म अभिनेत्री के शौहर ने 100 रुपये के स्टांप पेपर पर दिया तलाक, जानें पूरा मामला

 Abpbharat news -भोपाल। सरकार आज (मंगलवार) राज्यसभा में तीन तलाक बिल  पेश करने जा रही है। वहीं इससे पहले तीन तलाक से जुड़ा एक और मामला सामने आया है।  इंदौर में एक फिल्म अभिनेत्री ने अपने पति पर आरोप लगाया कि उसके पति ने 100 रुपये के स्टाम्प पेपर पर तलाकनामा भेजा है। दरअसल, रेशमा शेख उर्फ अलीना नाम की भोजपुरी अभिनेत्री ने अपने पति के लापता होने की शिकायत दर्ज कराई थी। जिसके बाद पुलिस ने उसके पति की तलाश शुरू कर दी। पति मिल भी गया वह थाने पहुंचा और साथ ही उसने शपथपत्र पर तलाकनामा भी भिजवा दिया। अभिनेत्री ने इसे एकतरफा फैसला बताते हुए इसे मानने से साफ इनकार कर दिया।

अभिनेत्री ने बताया कि मेरे पति मुदस्सिर बेग (34) ने मुझे 17 जुलाई को 100 रुपये का स्टाम्प पेपर भिजवाया। जिसपर लिखा था कि  मैं तंग आ चुका हूं। अपना रिश्ता यहीं खत्म करता हूं। तुम भी आगे की जिंदगी अपने तरीके से जी सकती हो। यह पहला तलाक है। दो और भेज दूंगा। अलीना का आरोप है कि अब्दुल्ला और उसके परिजन ने झांसे में लेकर उससे शादी की है। शादी के पहले लाखों रुपए भी ले लिए थे। साथ रखने का वादा कर इंदौर बुलाया और छोड़ दिया। अलीना के मुताबिक वह मुंबई में दस वर्षों तक फिल्म और धारावाहिकों में काम कर चुकी है।

पांच साल पहले 2016 में उन्होंने मुदस्सिर से प्रेम विवाह किया था। अलीना ने बताया कि अपनी शादी की  खातिर मैंने अभिनय करना भी छोड़ चुकी हूं। उन्होंने आगे कहा कि हमारा दो महीने का बच्चा है और मैं अपने पति के साथ ही रहना चाहती हूं। अलीना का कहना है कि वह न्याय पाने के लिये चंदन नगर पुलिस थाने और कुछ आला पुलिस अफसरों के दफ्तरों के चक्कर काट चुकी है लेकिन, इसका कोई नतीजा नहीं निकला है।

वहीं इस पूरे मामले पर प्रतिक्रिया देते हुए चंदन नगर पुलिस थाने के प्रभारी राहुल शर्मा ने कहा कि यह पति पत्नी का आपसी मामला है।अलीना के पति मुदस्सिर बेग का पक्ष सुनने के लिए उनसे संपर्क करने की कोशिश की जा रही है। हमने बहुत प्रयास किया लेकिन, उनसे संपर्क नहीं हो पा रहा है। अलिना के मुताबिक तीन तलाक का यह तरीका गलत है। इससे कई लड़कियों की जिंदगी खराब हो रही है।

WordPress › Error

The site is experiencing technical difficulties.