गौतम गंभीर ने की नवनीत सैनी की दिल खोल कर तारीफ, साथ ही उन्होंने पूर्व क्रिकेटर बिशन सिंह बेदी और चेतन चौहान पर साधा  निशाना

गौतम गंभीर ने की नवनीत सैनी की दिल खोल कर तारीफ, साथ ही उन्होंने पूर्व क्रिकेटर बिशन सिंह बेदी और चेतन चौहान पर साधा निशाना

नई दिल्ली -पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर ने नवदीप सैनी की प्रतिभा को काफी पहले ही पहचान लिया था। छह साल पहले जब सैनी ने गंभीर को नेट्स में गेंदबाजी की तो बाएं हाथ का यह बल्लेबाज उनके खेल से काफी प्रभावति हुआ। शनिवार को अपने पहले ही अंतरराष्ट्रीय मुकाबले में वेस्ट इंडीज के खिलाफ सैनी ने तीन विकेट लेकर गंभीर के इस फैसले को सही साबित किया। गंभीर ने इस मौके पर दुनिया को यह बताने में देर नहीं की एक समय दो पूर्व भारतीय खिलाड़ियों ने सैनी की प्रतिभा को पहचानने से इनकार कर दिया था।

यह बात किसी से छुपी नहीं है कि 2007 के वर्ल्ड टी20 और 2011 की विश्व कप विजेता टीम का हिस्सा रहे गंभीर ने सैनी का काफी समर्थन किया है। उन्होंने सैनी को अपनी प्रतिभा निखारने में मदद की और उनके बाद उन्हें दिल्ली की रणजी टीम में जगह दिलवाई। शनिवार को जब सैनी लॉडरिल में 17 रन देकर 3 विकेट लिए तो गंभीर अपनी भावनाओं को काबू नहीं रख सके।

सैनी को उनके प्रदर्शन के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया। गंभीर ने टि्वटर पर टीम इंडिया के इस यंग पेसर की तारीफ की और साथ ही बिशन सिंह बेदी और चेतन चौहान पर निशाना भी साधा। ये दोनों उस समय  दिल्ली ऐंड ड्रिस्ट्रिक क्रिकेट असोसिएशन  के सदस्य थे। इन दोनों ने सैनी को गंभीर के कहने पर दिल्ली रणजी टीम में शामिल किए जाने का विरोध किया था।

गंभीर ने ट्वीट किया, ‘भारत के लिए करियर की शुरुआत करने पर मुबारक हो नवदीप सैनी। गेंदबाजी शुरू करने से पहले ही तुम्हारे नाम दो विकेट- बिशन सिंह बेदी और चेतन चौहान हैं। ऐसे खिलाड़ी को डेब्यू करते देख, जिसके क्रिकेटिंग करियर का शोक-संदेश वे करियर शुरू होने से पहले ही लिख चुके थे, वे काफी परेशान होंगे।

2013 में गंभीर ने सैनी को दिल्ली की टीम में शामिल करने के लिए काफी जोर लगाया था। उस समय उनकी डीडीसीए के तत्कालीन वाइस-प्रेजिडेंट चेतन चौहान से काफी बहस हुई थी। बेदी उस समय असोसिएशन के अध्यक्ष थे।

सैनी ने भी कई बार अपने करियर में गंभीर की भूमिका की तारीफ की है। उन्होंने करीब दो साल पहले कहा था, ‘मेरे जीवन और करियर को बनाने में गौतम गंभीर का बहुत बड़ा योगदान है। मैं कुछ नहीं था और गौतम भैया ने मेरे लिए सब कुछ किया।’

शनिवार को लॉडरहिल, यूएसए में भारतीय टीम ने वेस्ट इंडीज 9 विकेट पर 95 रन पर रोक दिया। सैनी ने अपने पहले ही मैच में तीन विकेट लेकर मैन ऑफ द मैच का खिताब जीता।

You Might Also Like