घाटी को लेकर मोदी का बड़ा मास्टरस्ट्रोक ,राज्यसभा में पेश हुआ अनुच्छेद 370 हटाने का प्रस्ताव…

घाटी को लेकर मोदी का बड़ा मास्टरस्ट्रोक ,राज्यसभा में पेश हुआ अनुच्छेद 370 हटाने का प्रस्ताव…

घाटी में इन दिनों की गहमा गहमी के बीच भाजपा की ओर से बड़ा मास्टरस्ट्रोक सामने आया। केंद्र सरकार द्वारा राज्यसभा में पेश हुआ अनुच्छेद 370 को समाप्त करने का प्रस्ताव। नरेंद्र मोदी सरकार ने जम्मू-कश्मीर पर बड़ा ऐलान कर दिया है,आज राज्यसभा में गृह मंत्री अमित शाह ने पेश किया यह बिल। बता दे की अमित शाह ने इस घोषणा से पहले मोदी कैबिनेट की बैठक की और इस बैठक में ही जम्मू-कश्मीर पर बड़ा फैसला किया।
कश्मीर में इन दिनों कुछ बदलाओ की अटकलों के बीच दिल्ली में सोमवार सुबह से ही हलचल लगी हुई थी,दिल्ली में हुई कैबिनेट बैठक से पहले गृह मंत्री अमित शाह ने कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद से मुलाकात की। इसके ठीक बाद वह राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल के साथ पीएम मोदी के आवास पर पहुंचे। यह मुलाकात तक़रीबन 20 मिनट तक चली।

Image result for modi ajit doval

इसके कैबिनेट के टॉप चार मंत्रियों वाली कैबिनेट कमिटी ऑन सिक्योरिटी (सीसीएस) की बैठक हुई। कमिटी में शामिल भाजपा के गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, विदेश मंत्री एस जयशंकर और वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के साथ प्रधानमंत्री मोदी ने सुरक्षा की स्थिति पर चर्चा की। इसके बाद केंद्रीय कैबिनेट की बैठक हुई। इन बैठकों में कश्मीर पर कोई ऐतिहासिक फैसला लिए जाने की संभावना जताई जा रही हैं। हालांकि, गृह मंत्री अमित शाह संसद के दोनों सदनों, राज्यसभा और लोकसभा में बयान देंगे तो स्थिति स्पष्ट हो जाएगी। आपको बता दे की राज्य को लेकर किसी अहम फैसले की संभावना के बीच जम्मू में सोमवार की सुबह 6 बजे से धारा 144 लागू करने का फैसला लिया गया है। जम्मू जिले की उपायुक्त सुषमा चौहान ने कहा है कि 5 अगस्त सुबह 6 बजे से धारा 144 लागू हो जाएगी जो अगले आदेश तक जारी रहेगी। धारा 144 लगने के बाद चार से अधिक व्यक्ति एक जगह एकत्रित नहीं हो सकते हैं। जम्मू में मोबाइल इंटरनेट बंद रखने का भी आदेश जारी किया गया है।

 

गौरतलब है की राज्य में मोबाइल इंटरनेट सेवाओं को आंशिक रूप से बंद कर दिया गया है। इसके अलावा राज्य के सरकारी और प्राइवेट स्कूलों को बंद रखने की अडवाइजरी जारी की गई है। इसके अलावा श्रीनगर में सोमवार आधी रात से धारा 144 लागू कर दी गई है, जो अगले आदेश तक जारी रहेगी। इस दौरान किसी भी तरह की रैली या सार्वजनिक सभा की अनुमति नहीं होगी। साथ ही, जिले के सभी स्कूल बंद कर दिए गये है।
बता दे , राज्य में अहम जगहों और संवेदनशील इलाकों में सुरक्षा बलों की तैनाती बढ़ा दी गई। तनाव भरे हालात के बीच लोग जरूरी सामान और दवाएं खरीदने में जुट गए हैं। विजय मर्चेंट ट्रॉफी और कूच बिहार ट्रॉफी के लिए जम्मू कश्मीर की क्रिकेट टीमों के मेंटर इरफान पठान श्रीनगर में थे और रविवार को यह युवा क्रिकेटरों के साथ वहां से रवाना हो गए। कई शिक्षण संस्थानों ने अपने छात्रों से छात्रावास खाली करने को कह दिया गया है।

You Might Also Like