श्रीनगर एयरपोर्ट पर ही  रोके गये  गुलाम नबी आजाद

श्रीनगर एयरपोर्ट पर ही रोके गये गुलाम नबी आजाद

कांग्रेस सांसद और राज्यसभा में विपक्षी के नेता गुलाम नबी आज़ाद को दिल्ली वापस भेजा जा रहा है। गुलाम नबी आजाद को आज  श्रीनगर हवाई अड्डे पर ही रोक दिया गया था। वह जम्मू-कश्मीर में आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद पहली बार श्रीनगर  पहुंचे थे।

कश्मीर घाटी में पैदा हुए हालात:

 

बता दें, जम्मू-कश्मीर को पुनर्गठित किए जाने के बाद कश्मीर घाटी में पैदा हुए हालात पर राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार  अजीत डोभाल गहरी नजर रखे हुए हैं। उन्होंने घाटी के विभिन्न इलाकों का दौरा किया और सुरक्षाबलों से लेकर आम लोगों तक मुलाकात की।इस दौरान कई लोगों ने उन्हें अपने घर पर चाय की दावत भी दी। आतंकियों का गढ़ कहलाने वाले दक्षिण कश्मीर के शोपियां में उन्होंने सड़क पर लोगों के साथ खाना खाकर देश-दुनिया को संदेश दिया कि यहां सबकुछ सामान्य चल रहा है।

 

जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 :

केंद्र सरकार ने हाल ही में जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद-370  हटाने का फैसला लिया, जिसका कई विरोधी  पार्टियों ने विरोध भी किया। इसका विरोध करने वाली पार्टियों में कांग्रेस भी शामिल थी। कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद ने इस फैसले पर कहा था कि केंद्र सरकार ने संविधान के अनुच्छेद 370 को खत्म कर देश के सिर के टुकड़े कर दिए हैं।

सूत्रों ने बताया है कि तीन व्यावसायिक नेताओं और एक विश्वविद्यालय के प्रोफेसर, मुख्यधारा और अलगाववादी कार्यकर्ताओं सहित लगभग 400 लोगों को कश्मीर में नवीनतम कार्रवाई में पुलिस द्वारा प्रतिबंधित किया गया है।

जम्मू-कश्मीर सेआर्टिकल-370 हटाए जान के बाद आज सुबह से जम्मू में हालात सामान्य हैं। वहा के  लोग अपने रोजमर्रा की जरूरत के कामों के लिए बाहर निकल रहे हैं।

You Might Also Like