भारत छोड़ो आंदोलन की 77वीं वर्षगांठ के मौके पर उत्तर प्रदेश में 22 करोड़ पौधे लगाने का अभियान

भारत छोड़ो आंदोलन की 77वीं वर्षगांठ के मौके पर उत्तर प्रदेश में 22 करोड़ पौधे लगाने का अभियान

  भारत छोड़ो आंदोलन की 77वीं वर्षगांठ के मौके पर उत्तर प्रदेश में 22 करोड़ पौधारोपण के महाकुंभ का शुभारंभ शुक्रवार को  किया गया  है  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ के जैतीखेड़ा में हरिशंकरी का रोपण कर इस अभियान को हरी झंडी दे दी है । इस दौरान सीएम योगी आदित्यनाथ ने पौधों की पूजा भी की।

 योगी आदित्यनाथ ने वन विभाग को निर्देश दिए:

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वन विभाग को निर्देश दिए कि एक जिला एक उत्पाद योजना की तरह हर जिले में 100 वर्ष से अधिक आयु के वृक्ष चिन्हित करें। उन्हें हेरीटेज का दर्जा देकर संरक्षित किया जाएगा। एक बुकलेट भी बनाई जाएगी। उन्होंने घोषणा की कि अगले वर्ष वन महोत्सव में 25 करोड़ पौधे लगाए जाएंगे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने यहां खुद पौधारोपण करते हुए पांच ग्रामीण महिलाओं को सहजन के पौधे भी भेंट किए। कार्यक्रम में सांसद मोहनलालगंज कौशल किशोर, वन एवं पर्यावरण मंत्री दारा सिंह  चौहान, क्षेत्रीय विधायक एवं राज्यमंत्री स्वाति सिंह, मुख्य सचिव अनूपचंद पांडेय, अपर मुख्य सचिव आलोक सिन्हा, प्रधान मुख्य वन संरक्षक पवन कुमार डीएम कौशलराज शर्मा भी मौजूद थे।

वर्ड रिकॉर्ड बनायेंगे :

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इसके बाद प्रयागराज रवाना हो गए।प्रयागराज में  अधिक पौधे वितरित करके गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में प्रदेश का नाम दर्ज कराया जाएगा। प्रयागराज के परेड ग्राउंड में शुक्रवार को पौधा वितरण का विश्व कीर्तिमान बनेगा। शुक्रवार को कार्यक्रम स्थल पर पौधे लेकर कमिश्नर डॉ आशीष कुमार गोयल, उनकी पत्नी तथा डीएम भानुचंद्र गोस्वामी एवं अन्य अधिकारी भी तैनात हैं। इसी के साथ पौधा वितरण की शुरुआत हो गयी है। गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड की टीम भी पहुंच चुकी है।

You Might Also Like