पटना हाई कोर्ट ने जस्टिस राकेश कुमार के विवादित आदेश को किया रद्द ,इस आदेश में जस्टिस राकेश कुमार की न्यायपालिका में कथित भ्रष्टाचार पर तीखी टिप्पणियां शामिल थीं

पटना हाई कोर्ट ने सोमवार को जस्टिस राकेश कुमार के विवादित आदेश को रद्द कर दिया. इस आदेश में जस्टिस राकेश कुमार की न्यायपालिका में कथित भ्रष्टाचार पर तीखी टिप्पणियां शामिल थीं. बहरहाल, जस्टिस राकेश कुमार पर लगी रोक को हटा लिया गया है और न्यायिक बेंच का गठन कर दिया गया है. हालांकि, अब वे उस समूह के केस की सुनवाई नहीं कर सकेंगे, जिनकी पहले करते थे.

दरअसल, पटना हाई कोर्ट के जस्टिस राकेश कुमार ने न्यायपालिका पर तल्ख टिप्पणी की थी. एक मामले की सुनवाई के दौरान जस्टिस राकेश कुमार ने कहा था, ‘भ्रष्टाचारियों को न्यायपालिका से भी संरक्षण मिलता है. जबसे न्यायाधीश पद की शपथ ली है, तब से देख रहा हूं कि सीनियर जज भी मुख्य न्यायाधीश के आगे पीछे घूमते हैं, ताकि उनसे ‘फेवर’ लिया जा सके.’

इस तल्ख टिप्पणी के बाद जस्टिस राकेश कुमार ने हाई कोर्ट में कथित भ्रष्टाचार का मामला उठाकर उसकी जांच का भी आदेश दिया था. उन्‍होंने आदेश की कॉपी, देश के चीफ जस्टिस, सीबीआई और पीएमओ को भेजने को कहा था. जस्टिस कुमार के आदेश को हाई कोर्ट के 11 जस्टिस की एक बड़ी बेंच ने निलंबित कर दिया था.

बता दें कि मुख्य न्यायाधीश को लेकर तीखी टिप्पणी किए जाने के बाद हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश ने नोटिस जारी करते हुए जस्टिस राकेश कुमार के सभी केसों की सुनवाई पर रोक लगा दी. यह अपने तरह का पहला मौका है जब पटना हाई कोर्ट के किसी जज ने न्यायपालिका की कार्यशैली पर सवाल उठाते हुए तीखा प्रहार किया.

Related Articles

Live TV
Close