योगी सरकार ने लेह में सिंधु नदी के दर्शन करने के लिए जाने वाले सिंधी तीर्थयात्रियों को 20 हजार रुपये देने का किया फैसला

यूपी की योगी आदित्‍यनाथ सरकार ने लेह में सिंधु नदी के दर्शन करने के लिए जाने वाले सिंधी तीर्थयात्रियों को 20 हजार रुपये देने का किया  फैसला किया । सिंधी समुदाय सिंधु नदी को पवित्र मानता है। योगी सरकार का मानना है कि जम्‍मू-कश्‍मीर के पुनर्गठन के बाद अब लेह में माहौल टूरिज्‍म के पक्ष में है।

आपको बतादे  सिंधु नदी यात्रा जून महिने  में गुरु पूर्णिमा पर आयोजित की जाती है जिस समय सिंधु दर्शन फेस्टिवल का  आयोजन होता है। लेकिन यूपी के सभी जिलाअधिकारियों को  आदेश जारी  किया गया है कि अब साल  भर ऐसी यात्रा की जा सकती हैं।

मार्च में योगी सरकार ने सिंधी समुदाय के प्रत्येक सदस्य के लिए तीर्थ यात्रा का किराया 10,000 रुपये से बढ़ाकर 20,000 रुपये कर दिया था।  उत्तर प्रदेश में वाराणसी, कानपुर, उन्नाव, लखनऊ और इलाहाबाद सभी जिलो  के बीच लगभग  50 लाख से अधिक सिंधी परिवार  रहते हैं।

‘यूपी सरकार  हर सिंधी तीर्थयात्री को यह सहयोग धन  राशि देगा। वह इसका इस्‍तेमाल हवाई जहाज या ट्रेन के किराए या होटल में किए गए भुगतान की पूर्ति के रूप में कर सकेगा। हर तीर्थयात्री यात्रा की पुष्टि करने वाले दस्‍तावेज जमा करके इस अनुदान को प्राप्त करने   के लिए आवेदन कर सकता है।’

Related Articles

Live TV
Close