नीतीश कुमार को अटल जी ही ने बनाया था सीएम, लालू भी करते थे तारीफ..जानिए

नीतीश कुमार को अटल जी ही ने बनाया था सीएम, लालू भी करते थे तारीफ..जानिए

अटल बिहारी वाजपेयी अब नहीं रहे। वे देश के एेसे प्रधानमंत्री रहे, जिन्हें पक्ष-विपक्ष के नेता बराबर पसंद करते थे। खासकर बिहार की बात करें तो अटल जी के प्रधानमंत्रित्व काल में ही बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार रेल मंत्री बने थे। नीतीश कुमार किसी भी गठबंधन में रहें हों उनका अटल जी के लिए आदर और सम्मान यथावत रहा। अटल ने ही नीतीश कुमार को बिहार का सीएम बनाया था।

अभी कुछ दिनों पहले ही नीतीश कुमार ने बिहार की विभिन्न रेल परियोजनाओं का उद्घाटन करने पटना पहुंचे रेलमंत्री पीयूष गोयल के सामने कहा कि जब मैं रेल मंत्री था, तो  देश के कई जगहों पर आयोजित कार्यक्रम में शामिल होता था और तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी जी भी इन कार्यक्रमों में सहर्ष शामिल होते थे।

नीतीश ने कहा कि उस दौरान कैबिनेट से पारित कराने के बाद कई तरह की परेशानियां होती थीं, लेकिन अटल जी का ऐसा  आशीर्वाद प्राप्त था कि रेल मंत्रालय का कोई भी प्रस्ताव कैबिनेट में नहीं  अटकता था। उनकी वजह से देश की कई जगहों पर ऐसे कई महासेतु का निर्माण अपने रेल मंत्रित्वकाल में मैंने कराने की कोशिश की थी।

लालू यादव भी रहे हैं अटलजी के मुरीद

राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव ने भी पूर्व प्रधानमंत्री की तारीफ करते हुए कहा था कि उन्होंने तो बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दे दिया था लेकिन नीतीश कुमार ने ही उन्हें एेसा करने से रोक दिया था। लालू ने ट्वीट कर लिखा था कि 2003 में तत्कालीन प्रधानमंत्री वाजपेयी जी पटना आए थे।

वाजपेयी साहब बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देने पर सहमत हो गए चूंकि उन्होंने ही 2001 में बिहार का बंटवारा किया था। इसलिए उन्हें जानकारी थी लेकिन…’. अपने अगले ट्वीट में लालू ने लिखा है, ‘लेकिन एयरपोर्ट वापस जाने के क्रम में रेलमंत्री नीतीश वाजपेयी जी की कार में लटक लिए और एेसा जाने क्या कहा कि बिहार को दर्जा नहीं मिल सका। 

नीतीश कुमार को अटलजी ने ही सीएम बनाया 

बता दें कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने बिहार की राजनीति को बहुत गहरा प्रभावित किया है। पहली बार संयुक्त बिहार से केंद्र सरकार में 15 मंत्री बनाए गए थे। केंद्र की पांच वर्षों की अटल सरकार के दौरान बिहार की राजनीति पर राजधर्म का ऐसा असर दिखा कि लालू राबड़ी सरकार के अंत की पृष्ठभूमि भी तभी ही तैयार हो गई थी। वाजपेयी जी ही थे जिन्होंने नीतीश कुमार को कम सीटें आने के बावजूद सीएम चेहरा बनाया।

नहीं रहे अटल बिहारी वाजपेयी
देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी अब नहीं रहे। इसके पहले उन्हें एम्‍स में लाइफ सपोर्टिंग सिस्टम पर रखा गया था।

You Might Also Like