बिहियां केस में बड़ा खुलासा: महिला डांसरों ने की थी छात्र की हत्या, जानिए वजह

बिहियां केस में बड़ा खुलासा: महिला डांसरों ने की थी छात्र की हत्या, जानिए वजह

भोजपुर जिले के बिहियां में इंटर के छात्र विमलेश की हत्या रोहतास एवं बक्सर जिले की डांसरों ने सहयोगियों के साथ मिलकर की थी। साक्ष्य मिटाने को शव को रेलवे ट्रैक पर फेंकने का प्रयास किया गया था। इसका खुलासा रविवार को भोजपुर के एसपी अवकाश कुमार ने किया है। 

उन्होंने बताया कि तय पैसे से अधिक डिमांड किए जाने को लेकर  विवाद हुआ था। इसके बाद आवेश में आकर डांसरों ने सहयोगियों के साथ मिलकर हत्या कर दी थी।

मामले में बक्सर जिले के सिकरौल थाना अन्तर्गत इंगलिशपुर गांव निवासी अमित कुमार की पत्नी बबीता देवी, रोहतास जिले के दावथ थाना अन्तर्गत मलियाबाग की रूपचंद नट की पुत्री चांदनी के अलावा भोजपुर के बिहियां थाना के नीरनपुर निवासी नरेश यादव के पुत्र रामलाल यादव एवं बिहिया के डफाली मुहल्ला निवासी अशोक प्रसाद के पुत्र सन्नी कुमार को गिरफ्तार किया गया है। बबीता देवी संचालिका एवं चांदनी सहयोगी है। राम लाल यादव व सन्नी प्रसाद, नाच पार्टी का सहयोगी हैं।

नाच की आड़ में जिस्मफरोशी 

पुलिस अधीक्षक ने बताया कि गिरफ्तार बबीता बिहिया के डफाली इलाके में नाच मंडली की आड़ में लड़कियों से देह व्यापार करवाती थी। बीस अगस्त को घटना के दिन बबीता, रामलाल एवं सन्नी को विमलेश नामक छात्र का शव रेलवे ट्रैक पर फेंकते देखा गया था। जिसके बाद से पुलिस तीनों की तलाश कर रही थी।  हो-हल्ला होने पर सभी शव को छोड़कर भाग गए थे।

पोस्टमार्टम के दौरान केवल गला घोंटकर हत्या किए जाने की बात भी सामने आई है। एसपी ने बताया कि एक हफ्ते के अंदर कांड में आरोप पत्र समर्पित कर दिया जाएगा।

एसपी ने बताया कि बहोरनपुर ओपी के दामोदरपुर निवासी गणेश साह का पुत्र विमलेश 19 अगस्त को आरा आया था। 20 अगस्त की सुबह आरा में ही था। लेकिन, उस दिन दोपहर बिहियां चला आया था।

बिहियां आने के बाद विमलेश बबीता देवी के अड्डे पर भी गया था। इसके बाद उसे चांदनी नामक डांसर के पास भेजा गया था। उस दिन विमलेश के पास तीन हजार रुपये भी थे। तय पैसे को लेकर वाद विवाद हो गया था। पैसे को लेकर उपजे विवाद में मारपीट के दौरान गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी गई थी। विमलेश मौके पर ही गिरकर बेहोश हो गया था। बाद में उसकी मौत हो गई थी।

You Might Also Like