भाजपा विधायक के बिगड़े बोल, फरियादियों से कहा ‘जमीन के कागजों संग तुम क्यों नहीं जले’

भाजपा विधायक के बिगड़े बोल, फरियादियों से कहा ‘जमीन के कागजों संग तुम क्यों नहीं जले’

भाजपा विधायक राजकुमार ठुकराल का विवादों से पीछा नहीं छूटता। ताजा मामला रविवार को वायरल हुए एक ऑडियो का है। इसमें कोर्ट के आदेश पर जिन लोगों को जमीन से बेदखल किया जाना है, उनके परिवार की महिलाएं विधायक से बहस करती सुनाई दे रही हैं।

इन महिलाओें के अनुसार जब उन्होंने विधायक को जमीन के कागज जलने की बात बताई तो विधायक ने कहा, ‘तुम क्यों नहीं आग में जल गए।’ हालांकि विधायक ने आरोपों को निराधार बताते हुए इसे विपक्षियों की राजनीतिक साजिश करार दिया है।

भगवानपुर गांव में एक व्यक्ति की जमीन पर काबिज परिवारों को हटाने के लिए कोर्ट में याचिका दायर हुई थी। बताया जा रहा है कि कोर्ट से परिवारों को हटाने के आदेश हुए हैं। इन परिवारों के लोग रविवार सुबह विधायक राजकुमार ठुकराल के आवास पर पहुंचे। उन्होंने विधायक राजकुमार ठुकराल के समक्ष दिक्कतें रखीं। विधायक ने उनसे सोमवार को दस्तावेजों से साथ आने को कहा। इस पर एक महिला सुनवाई नहीं करने का आरोप लगाते हुए विधायक पर बिफर पड़ी। विधायक के दस्तावेज मांगे तो महिला ने कहा कि दस्तावेज आग में जल गए हैं। महिला किरन देवी का आरोप है कि विधायक उनके साथ गलत तरीके से पेश आए और आवास से बाहर कर दिया। जब कहा कि कागज आग में जल गए तो विधायक ने कहा कि तुम क्यों नहीं आग में जल गए। 

इसी तरह सुरेश कुमार और सुनीता देवी ने भी विधायक पर सुनवाई नहीं करने का आरोप लगाया। इस विवाद का बाद में ऑडियो भी वायरल हो गया, हालांकि वायरल ऑडियो में शोर की वजह से साफ सुनाई नहीं दे रहा है। शिकायत करने वाले परिवारों ने बाद में पूर्व मंत्री तिलकराज बेहड़ से मुलाकात की। बेहड़ ने मामले में न्याय दिलाने का भरोसा दिया। 

मैंने कोई अपशब्द नहीं कहा, विपक्षी कर रहे साजिश : ठुकराल

पहले भी विवादों से रहा है नाता
भगवानपुर गांव में रवि शाह की जमीन पर काबिज परिवारों को हटाने का कोर्ट का आदेश है। वहां बसे लोग मिलने आए थे। मैंने राधा स्वामी सत्संग जाने की बात कहकर सोमवार को आने की बात कही थी। इसी बीच एक महिला बहस करने लगी। मैंने अपशब्दों का प्रयोग नहीं किया। आरोप निराधार हैं। मुझे बदनाम करने की विपक्षियों की साजिश है। 
– राजकुमार ठुकराल, विधायक

विधायक ठुकराल से जुड़े कुछ पिछले विवाद
– 28 सितंबर 2017 को विधायक ठुकराल ने कोतवाली में धमकी देने के आरोपी की पिटाई की थी। मामले में विधायक के खिलाफ एनसीआर दर्ज हुई थी।
– 12 मार्च को विधायक पर अपने घर में पंचायत के दौरान महिलाओं से मारपीट और गालीगलौच करने पर मुकदमा दर्ज हुआ था। मुकदमे के 20 घंटे बाद वादी आरोप से मुकर गया था। वीडियो भी वायरल हुआ था। 
– 10 अप्रैल को अतिक्रमण हटाओ अभियान के दौरान भी विधायक की जुबान फिसली थी और अभद्र शब्दों का इस्तेमाल किया था। 
– छह मई को विधायक ने समर्थकों के साथ टोल प्लाजा पर हंगामा काटा। टोलकर्मियों से गालीगलौच की। इसका भी वीडियो वायरल हुआ था। टोल प्लाजा में गालीगलौच के मामले में विधायक को प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट ने क्लीन चिट दी थी। 
– अब दो सितंबर को विधायक पर महिला ने अभद्र भाषा का इस्तेमाल करने का आरोप मढ़ा है।

You Might Also Like