पहली बार दो ट्रांसजेंडर्स की नियुक्ति करेगा पाकिस्तान का सुप्रीम कोर्ट

पहली बार दो ट्रांसजेंडर्स की नियुक्ति करेगा पाकिस्तान का सुप्रीम कोर्ट

पाकिस्तान का सुप्रीम कोर्ट पहली बार दो ट्रांसजेंडर्स की नियुक्ति करेगा। मुख्य न्यायाधीश मियां साकिब निसार ने मंगलवार को तीसरे लिंग के अधिकारों से जुड़े मामले की सुनवाई के दौरान यह एलान किया।

मुख्य न्यायाधीश ने कहा, ‘हमारे समाज में ट्रांसजेंडर्स को उपहास का पात्र समझा जाता है। उन्हें उनका हक दिलाना हमारी प्राथमिकता होना चाहिए। अदालत उनकी समस्याओं का समाधान कर उन्हें मुख्यधारा में वापस लाना चाहती है।’ उन्होंने खैबर पख्तूनख्वा प्रांत में ट्रांसजेंडर समुदाय के साथ हो रहे दु‌र्व्यवहार पर खेद जताया। साथ ही कहा कि अदालत इस समुदाय से जुड़ी भ्रामक जानकारियां फैलाने वाले एनजीओ और खैबर पख्तूनख्वा की सरकार को नोटिस जारी करेगी।

मुस्लिम बहुल पाकिस्तान में करीब पांच लाख ट्रांसजेंडर हैं। लेकिन राजनीति या नौकरियों में उनका प्रतिनिधित्व नहीं के बराबर है। 2009 में देश ने ट्रांसजेंडर्स को तीसरे लिंग के तौर मान्यता देते हुए उन्हें पहचान पत्र हासिल करने की अनुमति दी थी। पिछले साल हुई जनगणना में पहली बार ट्रांसजेंडर्स की भी गिनती हुई।

You Might Also Like