इस देश की करेंसी का हुआ ऐसा हाल, लोगों को पैसे की जगह देने पड़ रहे हैं सोने के सिक्के

इस देश की करेंसी का हुआ ऐसा हाल, लोगों को पैसे की जगह देने पड़ रहे हैं सोने के सिक्के

 इस समय देश में डॉलर के सामने रुपए की गिरती कीमत पर खूब चर्चा हो रही है. डॉलर के सामने लगातार गिरता रुपया राजनीतिक गलियारों में भी खूब सुर्खियों में है. लेकिन एक देश और है, जिसकी करंसी डॉलर के सामने बहुत बुरी तरह गिर रही है. ये देश है ईरान और इसकी करंसी रियाल का हाल डॉलर के सामने हर दिन बहुत बुरा होता जा रहा है. एक समय तो एक डॉलर की कीमत डेढ़ लाख रियाल के बराबर हो चुकी है. 13 सितंबर 2018 को एक डॉलर की कीमत 42105 रियाल हो चुकी थी.

डॉलर के सामने गिरते रियाल के कारण ईरान के मार्केट का बुरा हाल है. लोग बड़े खर्चों में रियाल की जगह अब सोने के सिक्के देकर काम चला रहे हैं. खासकर प्रॉपर्टी खरीदने, शादी ब्याह या फिर मकान का रेंट देने के लिए लोग गोल्ड का इस्तेमाल कर रहे हैं.

ईरान की करंसी रियाल में ये गिरावट दिसंबर से शुरू हुई. 29 जुलाई को एक डॉलर की कीमत 1 लाख रियाल हो गई. इसलिए इस समय किसी बड़ी खरीददारी के लिए ईरान के लोग सोने के सिक्कों का इस्तेमाल कर रहे हैं. ईरान में इस समय एक गोल्ड कोइन की कीमत 4 करोड़ रियाल के बराबर हो गई है. हालांकि फिलहाल ये थोड़ा सुधरकर 3.6 करोड़ तक आ गई है.

क्यों गिरा इतना रियाल
रियाल में इतनी बड़ी गिरावट तब आई जब अमेरिका ने ईरान के साथ अपनी न्यूक्लियर डील तोड़ दी. मई में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने इसकी घोषणा कर दी. इसके बाद ईरान पर प्रतिबंध लागू कर दिए गए. तब से ईरान के रियाल में बड़ी गिरावट जारी है.

एक अपार्टमेंट का किराया 2 सोने के सिक्के
तेहरान के रहने वाले इस्माइल जलाली बताते हैं कि रियाल की गिरती कीमत के कारण यहां पर लोगों ने अपने मकानों के किराए बढ़ा दिए हैं. अब वह अपने किराएदार से किराया रियाल में नहीं बल्कि सोने के रूप में ले रहे हैं. तेहरान में 95 स्क्वायर मीटर के अपार्टमेंट का किराया 2 सोने के सिक्के के रूप में वसूला जा रहा है. वह बताते हैं कि कई मकान मालिक तो किराया डॉलर में भी मांग रहे हैं. इन दिनों तेहरान जैसे शहरों में लोग किराए पर मकान लेने से कतरा रहे हैं. इसलिए यहां पर रेंटल एग्रीमेंट बनवाने के मामले पिछले साल की तुलना में कम हुए हैं.

You Might Also Like