लोकसभा चुनाव को लेकर एनडीए को मनाने में जुटी कांग्रेस, जानिए प्‍लान

लोकसभा चुनाव को लेकर एनडीए को मनाने में जुटी कांग्रेस, जानिए प्‍लान

पटना । लोकसभा चुनाव-2019  की तैयारियों में जुटी कांग्रेस प्रतिद्वंद्वियों को पराजित करने के लिए एक साथ कई रणनीतियों पर काम कर रही है। जनता के मुद्दों को जनता के बीच उठाने की जारी मुहिम के बीच पार्टी दूसरी ओर राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) के नाराज नेताओं पर डोरे डालने में भी जुटी है। नरेंद्र मोदी और अमित शाह के गृह प्रदेश गुजरात के कांग्रेस नेता व बिहार के प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल और सचिव अल्पेश ठाकोर की नजर एनडीए के वैसे नेताओं पर भी है जो वहां खुद को असहज पा रहे हैं। ऐसे नेताओं के पार्टी विरोधी लगातार बयान कांग्रेस के लिए नया रास्ता खोल रहे हैं।

एनडीए के असंतुष्‍टों को कांग्रेस या सहयोगी दलों में लाने की कोशिश

कांग्रेस की पहली कोशिश ऐसे नेताओं को खुद से जोडऩे की है। अगर किसी वजह से कांग्रेस में इनके लिए बात नहीं बन पाती है तो महागठबंधन के अन्य घटक दलों में भी जगह बनाई जा सकती है, ताकि आगामी चुनाव में ऐसे नेताओं की मदद लेकर भाजपा और उसके सहयोगियों की कड़ी टक्कर दी जा सके।

नाराजगी भुनाने की फिराक में पार्टी

कांग्रेस सूत्रों की मानें तो भाजपा सांसद शत्रुघ्न सिन्हा, कीर्ति झा आजाद, लोजपा सांसद वीणा देवी, चौधरी महबूब अली कैसर एवं रामा सिंह समेत कुछ अन्य सीनियर नेता कांग्रेस नेतृत्व के संपर्क में हैं। इन नेताओं की अपने संगठन से नाराजगी अब कोई छिपी बात नहीं है। इन नेताओं के गाहे-बेगाहे आने वाले बयान यह साबित करते हैं कि संगठन में इन्हें तवज्जो नहीं दी जा रही है। कांग्रेस इसी नाराजगी को भुनाने की फिराक में है। गोहिल और ठाकोर इस कोशिश में हैं कि एनडीए में नाराज चल रहे नेता चुनाव के पहले कांग्रेस या महागठबंधन खेमे में शामिल हो जाएं।

नाराज, लेकिन मौन नेताओं पर भी है नजर

सूत्रों की मानें तो इन नेताओं के अलावा कुछ और भी नाम हैं जो अपनी पार्टी एवं गठबंधन की नीतियों से संतुष्ट नहीं हैं और अंदर ही अंदर आहत हैं। हालांकि, ऐसे नाराज नेता अब तक मुखर नहीं हो पाए हैं। ना चाहते हुए भी वह मन मसोस कर चुप बैठे हैं और चुनाव के एलान के इंतजार में हैं। कांग्रेस की नजर बकायदा वैसे नेताओं के राजनीतिक बयानों के साथ ही उनकी गतिविधियों पर भी है। वह अपने तरीके से इसके मायने भी निकाल रही है।

आलाकमान के निर्देश पर सार्वजनिक किए जाएंगे नाम

बिहार कांग्रेस के प्रभारी अध्यक्ष कौकब कादरी स्वीकार करते हैं कि बड़ी संख्या में एनडीए के नाराज नेता हैं जिनका दम एनडीए में घुट रहा है। वैसे नेता उनके संपर्क में हैं और समय आने पर उनके नाम सार्वजनिक किए जाएंगे। कादरी ने कहा जिस दिन यह पक्का हो जाएगा कि उन्हें कांग्रेस में आना है उनके नाम सार्वजनिक कर दिए जाएंगे। यह काम आलाकमान के निर्देश पर होगा।

You Might Also Like