मनोरंजन

शाहरुख खान ने इवेंट में कहा की इस कारण से निर्देशक बनने से डर लगता हैं .

शाहरुख खान ने टॉकिंग मूवीज नाम के एक शो में अपना इंटरव्यू दिया। इस इंटरव्यू में उन्होंने अपने फिल्मी सफर के बारे में बात करते हुए कहा कि निर्देशक बनना अकेलेपन में बैठकर काम करने जैसा है। शाहरुख का मानना है कि वह अभिनेता बनकर वे काफी खुश हैं।

Loading...

उन्होंने कहा, ‘फिल्म का निर्देशक एक भगवान होता हैं, वह एक फिल्म बनाता है, अभिनेताओं को बताता है कि कैसे अभिनय करना है, डायलॉग का चुनाव करता है, स्क्रिप्ट बनाता है, इसे बेचता है, थिएटरों में जाना, काले कमरों में उसकी ‘एडिटिंग करना और जब फिल्म रिलीज होती है

अभियान भले की पश्चिमी देशों से शुरू हुआ हो, लेकिन भारत समेत पूरी दुनिया की महिलाओं को अपने साथ हुए दुर्व्यवहार के खिलाफ आवाज उठाने का अवसाए दिया है। शाहरुख का मानना है कि मीटू अभियान से भविष्य में काफी बदलाव आने की उम्मीद है।

Loading...
loading...
Tags

Related Articles

Live TV
Close