Main Slideउत्तर प्रदेशप्रदेशबड़ी खबर

CM योगी आदित्यनाथ ने गोरक्षनाथ पीठ में चढ़ाई खिचड़ी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज सुबह 3:30 बजे भगवान गोरक्षनाथ को अपनी पहली खिचड़ी चढ़ाई और विशेष पूजन अर्चन किया. उसके बाद नेपाल नरेश के द्वारा भेजी गई खिचड़ी को भगवान गोरखनाथ को चढ़ाया गया और फिर लाखों की संख्या में दर्शन करने आए श्रद्धालुओं के लिए मंदिर का कपाट खोल दिया गया. मकर संक्रांति के मौके पर गोरक्ष पीठाधीश्वर योगी आदित्यनाथ ने देश और प्रदेश वासियों को मकर संक्रांति की बधाई देते हुए इस पर्व और उसकी महत्ता को बताया उधर कड़ाके की ठंड और घने कोहरे के बीच सुबह से ही मकर संक्रांति के मौके पर गोरक्षनाथ मंदिर में श्रद्धालुओं का रेला लगा हुआ है.

Loading...

सुबह से ही बड़ी संख्या में श्रद्धालु भगवान गोरक्षनाथ को खिचड़ी चढ़ा रहे हैं. मौसम प्रतिकूल है, लेकिन श्रद्धालुओं को उत्साह कम नहीं हुआ है. दूर-दूर से आए श्रद्धालु भगवान गोरक्षनाथ के जयकारे लगा रहे हैं और अपनी पारी का लाइनों में लगकर इंतजार कर रहे हैं.इस मौके पर आरएसएस व हिंदू युवा वाहिनी के कार्यकर्ता भी पुलिस के साथ व्यवस्था में जुटे हुए हैं.

गौरतलब है कि भगवान गोरखनाथ को मकर संक्रांति पर खिचड़ी चढ़ाने की परंपरा सदियों से चली आ रही है. मान्यता है कि एक बार बाबा गोरख्नत हिमचल के ज्वाला देवी के यहां गए थे. उन्हें माता ज्वाला देवी ने उन्हें भोजन परोसा. लेकिन भोजन तामसी होने की वजह से उन्होंने नहीं किया.

इसके बाद उन्होंने मां जवाल देवी से पानी उबालने के लिए कहा और खुद भिक्षाटन के लिए निकल पड़े. वे भिक्षा मांगते-मांगते गोरखपुर तक पहुंच आए और यहीं के होकर रह गए. तभी से हिमाचल के ज्वाला देवी मंदिर में पानी उबल रहा है. ऐसी मान्यता है कि आज भी बाबा गोरखनाथ का खप्पर नहीं भरा है. लिहाजा श्रद्धालु उन्हें खिचड़ी का भोग लगाते हैं.

Loading...
loading...
Tags

Related Articles

Live TV
Close