Main Slideउत्तर प्रदेशदेशबड़ी खबर

CDS रावत के साथ युद्ध स्मारक पहुंचे तीनों सेना प्रमुख शहीदों को किया नमन दी श्रद्धांजलि

CDS रावत के साथ युद्ध स्मारक पहुंचे तीनों सेना प्रमुख शहीदों को किया नमन दी श्रद्धांजलि सेना दिवस के अवसर पर चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत के साथ तीनों सेनाओं के प्रमुख ने आज सुबह राष्ट्रीय युद्ध स्मारक पहुंचकर शहीदों को श्रद्धांजलि दी इस अवसर पर सेना के कई वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद थे बता दें कि भारत आज 72वां सेना दिवस मना रहा है।

Loading...

साल 1949 में आज ही के दिन भारत के अंतिम ब्रिटिश कमांडर-इन-चीफ जनरल फ्रांसिस बुचर के स्थान पर तत्कालीन लेफ्टिनेंट जनरल के एम करियप्पा भारतीय सेना के कमांडर इन चीफ बने थे। करियप्पा बाद में फील्ड मार्शल भी बने केएम करियप्पा पहले ऐसे अधिकारी थे, जिन्हें 28 अप्रैल 1986 को फील्ड मार्शल की उपाधि दी गई थी। उन्होंने भारत-पाक युद्ध में भारतीय सेना का नेतृत्व किया था। दूसरे विश्व युद्ध में बर्मा में जापानियों को शिकस्त देने के लिए उन्हें ऑर्डर ऑफ द ब्रिटिश एंपायर से प्रतिष्ठित किया गया था 1993 में उनका निधन हुआ भारतीय सेना का गठन ईस्ट इंडिया कंपनी ने कोलकाता में किया गया था। भारतीय थल सेना की शुरुआत ईस्ट इंडिया कंपनी की सैन्य टुकड़ी के रुप में हुई थी। बाद में यह ब्रिटिश भारतीय सेना बनी और फिर भारतीय थल सेना के नाम दिया गया।

जनरल मनोज ने थलसेना के सभी  सैनिकों, परिवारों, भारतीय सशस्त्र बल, भूतपूर्व सैनिकों, वीर नारियों को सेना दिवस की शुभकामनाएं दी हैं। उन्होंने सभी को सफलता, यश और गौरव की शुभकामनाएं भी दी।

Loading...
loading...
Tags

Related Articles

Live TV
Close