Main Slideदेशबड़ी खबरसाहित्य

नहीं खुलेगा कोई इंजीनियरिंग कॉलेज अगले 2 साल में….

आपको बतादे की साल 2022 तक भारत में कोई नया इंजीनियरिंग इंस्टीट्यूट नहीं खोला जाएगा। अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद ने नए इंस्टीट्यूट खोलने पर पूरी तरह रोक लगा दी है। ये फैसला इसलिए लिया गया है कि इंजीनियरिंग कॉलेजों में हर दूसरी सीट खाली पाई गई है।

Loading...

2019-20 के शिक्षा सत्र में इंजीनियरिंग कॉलेजों में सिर्फ 50 फीसदी सीटें ही भरी हैं और 50 फीसदी खाली पड़ी हैं।देश में इंजीनियरिंग के लिए 27 लाख सीटें हैं, लेकिन साल 2019-2020 के बीच सिर्फ 13 लाख छात्रों ने ही दाखिला लिया। अपने फैसले की AICTE अब दो साल बाद समीक्षा करके उसके बाद ही नए इंजीनियरिंग कॉलेजों को मंजूरी देने पर फैसला होगा।

AICTE के मुताबिक 2015 से 2019 के बीच चार साल में 518 इंजीनियरिंग इंस्टीट्यूट बंद हो गए हैं।नई AICTE हैंडबुक मे कहा गया पिछले कुछ वर्षों के दौरान विभिन्न कार्यक्रमों में रिक्त सीटों की बड़ी संख्या और भविष्य की संभावित मांग को देखते हुए परिषद इंजीनियरिंग और प्रौद्योगिकी में डिप्लोमा/ ग्रेजुएट/ पोस्‍टग्रेजुएट स्तर पर नए तकनीकी संस्थानों को मंजूरी नहीं देगा।

हालांकि, नए कोर्सेज़ की शुरूआत करने वाले कॉलेजों को मंजूरी रहेगी। AICTE के आंकड़ों के मुताबिक, 2019 में कैंपस प्लेसमेंट के दौरान केवल छह लाख ग्रेजुएट्स को नौकरी मिली। छात्रों की कम संख्‍या के चलते 2015 और 2019 के बीच कुल 518 इंजीनियरिंग कॉलेज बंद हो गए हैं।

Loading...
loading...
Tags

Related Articles

Live TV
Close