Main Slideदेशविदेश

ट्रंप के भारत दौरे से बदलेगी भारत व अमेरिका के रिश्ते की तस्वीर। …

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप भारत दौरे पर अहमदाबाद पहुंच चुके हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रोटोकॉल तोड़कर उनका स्वागत किया। वहीं दोनों नेताओं का स्वागत करने के लिए मोटेरा स्टेडियम तैयार है। ट्रंप और मोदी की दोस्ती से इतर इस दौरे पर दोनों देश पांच सौदे करने वाले हैं। जोकि भारत-अमेरिका के रिश्तों को एक नया आयाम देने का काम करेंगे। इसमें घरेलू सुरक्षा, बौद्धिक संपदा कानून, परमाणु सौदे के तहत रिएक्टर समझौता, रक्षा सौदा और सीमित ट्रेड डील शामिल है

Loading...

रवीश कुमार ने कहा कि एशिया-प्रशांत क्षेत्र में आपसी संबंध बढ़ाने और एच-1बी वीजा के मुद्दे को उठाया जाएगा। डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन ने वीजा के नियम कड़े कर दिए हैं। जिसके बाद भारतीय युवाओं का अमेरिकी सपना मुश्किल हो गया है। अपनी 36 घंटे की यात्रा के दौरान ट्रंप अहमदाबाद से आगरा जाएंगे। इसके बाद दिल्ली में द्वीपक्षीय मुद्दों पर बातचीत होगी।

रक्षा सौदा एक ऐसा क्षेत्र है जहां ट्रंप भारतीय रुख को समझेंगे। ट्रंप यह बात अच्छी तरह से जानते हैं कि भारत हथियारों का एक बड़ा खरीददार है और इस मामले में रूस लीड ले सकता है जो अमेरिका का प्रतिद्वंदी है। भारत के रूस के साथ एस-400 एयर डिफेंस मिसाइल सिस्टम का सौदा करने के बाद ट्रंप बेचैन हो गए थे। हालांकि भारत ने बाद में अमेरिका के साथ भी एयर डिफेंस डील की।विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने बताया था

कि वेस्टिंगहाउस और न्यूक्लियर पॉवर कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया आंध्र प्रदेश के कोव्वादा में 1100 मेगावाट के छह रिएक्टर बनाने की बात कर रहे हैं। परमाणु समझौते के तहत किसी भी तरह की दुर्घटना होने पर पूरी जिम्मेदारी सप्लायर पर डालने के प्रावधान से अमेरिका चिंतित था। हालांकि इसमें ऑपरेटर की भूमिका को भी शामिल किया गया है।

Loading...
loading...
Tags

Related Articles

Live TV
Close