जीवनशैली

थायरॉइड के रोग को दूर करने में फायदेमंद है ये योगासन

योगा न केवल आपको तंदरुस्त रखता है, बल्कि इससे आपका मन भी शांत रहता है. अगर आप शारीरिक रूप से कमज़ोर महसूस कर रहे हैं, तो योगा आपको फिट रखने में बेहद मददगार साबित हो सकता है. ये शरीर को चुस्त रखने के साथ ही कई बीमारियों से भी आपको बचाए रखता है. आजकल के लाफस्टाइल को देखते हुए थायरॉइड एक ऐसी बीमारी बन गयी है, जो दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है.

Loading...

थायरॉइड गर्दन में पाई जाने वाली एक ग्रंथि होती है जो शरीर में मेटाबॉलिज्म के स्तर को नियंत्रण में रखती है. जिससे आपके वजन पर काफी प्रभाव पड़ता है. अगर आप थयरॉइड की समस्या से परेशान हैं और खुद को फिट रखना चाहते हैं, तो ऐसे में आपके लिए हर रोज सुबह उठकर योगा करना बहुत ही लाभकारी साबित हो सकता है, तो आइए आज हम आपको बताते हैं, ऐसे योगासनों के बारे में जो आपके तनाव को कम कर आपको फुर्तीला बनाते हैं.

मत्स्यासन करें
इस आसन को फिश पोज़ के नाम से भी जाना जाता है. यह आपके कमर दर्द और आपकी गर्दन की चर्बी को कम करने में सहायक होता है. इस आसन से आपकी रीढ़ की हड्डी में लचीलापन आता है. इस आसन को करने से कंधे, गर्दन, कमर में खिंचाव महसूस होता है, जो मांसपेशियों के तनाव को दूर हो जाता है. यह आपको कब्ज की परेशीनी से निजात दिलाने में मदद करता है. साथ ही यह घुटने के दर्द को कम तथा आंखों के लिए भी अच्छा माना जाता है.

मत्स्यासन करने की विधि
इसके लिए आप नीचे बैठ जाएं और हाथ का सहारा लेकर धीरे-धीरे पीछे की तरफ होते हुए कमर का सपोर्ट लेकर लेट जाएं. फिर कोहनियों के बल से शरीर को उठाएं और पैरों को हाथों से क्रॉस करके पकड़ें. अब सांस लें और छोड़ें. इसे 1 मिनट तक करें, उसके बाद पहले जैसी अवस्था में आ जाएं और थोड़ी देर विश्राम करें.

विपरीत करनी करें
अगर आप थायरॉइड के रोगी हैं तो यह आसन आपके लिए बहुत लाभकारी है. यह आपका सिर दर्द, कमर दर्द, घुटनों का दर्द जैसी समस्याएं दूर करता है. इसके साथ ही यह आपके शरीर में ब्लड सर्कुलेशन को भी बेहतर करता है. इसके अलावा यह आपके पैरों की मांसपेशियों के खिंचाव और तनाव को दूर करता है.

विपरीत करनी करने की विधि
इसके लिए आप मैट को दीवार के पास बिछाकर पीछे की तरफ झुकते हुए लेट जाएं. फिर अपने पैर और कूल्हे को दीवार से सटाकर ऊपर की ओर उठाएं इस पोजीशन में अपने हाथों को शरीर से दूर रखें. इसको आप 5 से 10 मिनट तक करें. इसके बाद आप उठकर बैठ जाएं और थोड़ी देर तक आराम करें. अगर आपको गर्दन में दर्द की समस्या है तो आपको इस योगासन को नहीं करना चाहिए.

हलासन करें
यह आसन आपको थोड़ा मुश्किल लग सकता है. मगर यह मधुमेह और थायरॉइड की समस्या से परेशान लोगों के लिए बहुत ही लाभकारी है. यह आसन आपके शरीर के मेटाबॉलिज्म को कम कर आपको पतला होने में मदद करता है. इसके साथ ही यह आपको सिर दर्द और कमर दर्द से निजात दिलाने में सहायक है. इसके अलावा यह आसन आपको कब्ज और गले की बीमारियों से भी छुटकारा दिलाता है.

हलासन करने की विधि
इसके लिए आप बिल्कुल सीधा लेटकर अपने पैरों को ऊपर की ओर उठा लें. फिर पैरों को ऊपर की ओर उठाते हुए धीरे-धीरे पीछे की ओर ले जाएं और अपनी उंगलियों से जमीन को छूने की कोशिश करें. ऐसे में ध्यान रहे कि इस पोजिशन  में आपके दोनों हाथ बिल्कुल सीधे ज़मीन से चिपके रहें. इस स्थति में आप कम से कम 1 मिनट तक रुकें और फिर पहले वाली पोजीशन में आ जाएं. इस आसन को आप कम से कम 3 बार दोहराएं.

Loading...
loading...
Tags

Related Articles

Live TV
Close