LIVE TVMain Slideखेलदेश

कपिल देव ने बताया की आखिर क्यों नहीं है टीम इंडिया के अलग अलग कप्तान रखने के हक में

रोहित शर्मा की अगुवाई में मुंबई इंडियंस की टीम पांचवीं बार आईपीएल विजेता बनने में कामयाब हुई है. रोहित शर्मा की इस कामयाबी के बाद उन्हें लिमिटिड ओवर्स में टीम इंडिया का कप्तान बनाए जाने की मांग हो रही है.

Loading...

लेकिन टीम इंडिया को पहली बार वर्ल्ड कप विजेता बनाने वाले कपिल देव टीम इंडिया के लिए अलग अलग कप्तान रखने के हक में नहीं हैं. फिलहाल विराट कोहली ही तीनों फॉर्मेट में टीम इंडिया की अगुवाई कर रहे हैं.

कपिल शर्मा ने साफ किया है कि टीम इंडिया में दो कप्तान नहीं हो सकते हैं. कपिल देव ने कहा हमारी संस्कृति में इस तरह नहीं हो सकता. क्या एक कंपनी में आप दो सीईओ बनाते हो? नहीं. अगर कोहली टी20 खेल रहा है और वह अच्छा है तो उसे बने रहने दीजिए. हालांकि मैं देखना चाहता हूं कि अन्य खिलाड़ी भी आगे आएं. लेकिन यह मुश्किल है.

कपिल का मानना टेस्ट और लिमिटिड ओवर्स में अलग कप्तान बनाने से समस्या खड़ी होगी. उन्होंने कहा सभी प्रारूपों में हमारी 70 से 80 प्रतिशत टीम समान है. उन्हें अलग अलग विचारों वाले कप्तान पसंद नहीं है. अगर आप दो कप्तान रखोगे तो खिलाड़ी सोच सकते हैं कि वह टेस्ट में मेरा कप्तान होगा. मैं उसे नाराज नहीं करूंगा.

कपिल देव तेज गेंदबाजों के प्रदर्शन से खुश नहीं हैं. कपिल देव ने कहा पहली गेंद क्रॉस सीम नहीं हो सकती. आईपीएल में खिलाड़ियों ने महसूस किया कि गति से अधिक महत्वपूर्ण स्विंग है. आईपीएल में टी नटराजन मेरा हीरो है. वह युवा गेंदबाज निडर था और इतनी सारी यॉर्कर डाल रहा था.

कपिल देव ने हालांकि टीम इंडिया के गेंदबाजों की तारीफ की है. उन्होंने कहा शमी, बुमराह को देखिए. एक क्रिकेटर के रूप में यह कहते हुए मुझे काफी खुशी होती है कि आज हम अपने तेज गेंदबाजों पर निर्भर हैं. हमारे गेंदबाज मैच में 20 विकेट लेने में सक्षम हैं. हमारे पास कुंबले, हरभजन जैसे स्पिनर थे लेकिन आज कोई देश यह नहीं कहना चाहेगा कि उन्हें उछाल भरे विकेट दीजिए

Loading...
loading...
Tags

Related Articles

Live TV
Close