LIVE TVMain Slideदेशविदेशस्वास्थ्य

16 जनवरी से शुरू होने वाले दुनिया के सबसे बड़े वैक्सीनेशन के लिए 20 से ज्यादा शहरों को होगी वैक्सीन की सप्लाई आज

दुनिया के सबसे बड़े मिशन की जो हिन्दुस्तान की धरती पर 16 जनवरी से शुरू होने वाला है. इस टीकाकरण अभियान के लिए पूरा देश एक जुट होकर काम कर रहा है. देर रात पुणे की सीरम इंस्टीट्यूट से कुल 6 कंटेनर वैक्सीन लेकर रवाना हुए हैं.

Loading...

तीन ट्रकों को मुंबई एयरपोर्ट के लिए भेजा गया है, जबकि पुणे एयरपोर्ट और बेलगाम के लिए एक-एक ट्रक को रवाना किया गया है. खबर ये है कि मुंबई एयरपोर्ट से 22 जगहों पर वैक्सीन पहुंचाई जाएगी. इसके अलावा आज देश के 20 से ज्यादा शहरों में कोविशील्ड वैक्सीन पहुंचने की उम्मीद है.

कोविड-19 वैक्सीन की 54.72 लाख खुराक मंगलवार शाम 4 बजे तक पहुंचायी गई. 14 जनवरी तक सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया से 1.1 करोड़ और भारत बायोटेक से 55 लाख खुराक मिल जाएगी.

भारत में 16 जनवरी से दुनिया का सबसे बड़ा कोरोना वैक्सीन अभियान शुरू होने जा रहा है. इसमें पहले चरण ने 3 करोड़ लोगो को भारत में इमरजेंसी यूज ऑथोराइजेशन मिली दो वैक्सीन दी जाएंगी.

वैक्सीन की डिलीवरी के मौके पर सीरम इंस्टीट्यूट के सीईओ अदार पूनावाला ने कहा कि ये ऐतिहासिक लम्हा है. उन्होंने कहा कि देश के हर आदमी तक वैक्सीन पहुंचाना एक बड़ी चुनौती है

वो इसे मुमकिन करने में जुटे हैं पूनावाला ने कहा कि असली चुनौती टीके को आम जनता, संवेदनशील समूहों और स्वास्थ्यकर्मियों तक पहुंचाना है

पूनावाला ने कहा हमारे ट्रक तड़के इंस्टीट्यूट से रवाना हुए और अब टीका पूरे देश में भेजा जा रहा है. यह गौरवपूर्ण और ऐतिहासिक पल है क्योंकि वैज्ञानिकों, विशेषज्ञों

इससे जुड़े तमाम लोगों ने एक साल से भी कम में टीका विकसित करने में बहुत मेहनत की है पूनावाला ने कहा कि इंस्टीट्यूट ने भारत सरकार को 200 रुपये की विशेष कीमत पर टीका दिया है.

वहीं, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बातचीत की थी और कहा था कि कोविड-19 के लिए टीकाकरण पिछले तीन-चार हफ्तों से लगभग 50 देशों में चल रहा है और अब तक केवल ढाई करोड़ लोगों को टीके लगाए गए हैं जबकि भारत का लक्ष्य अगले कुछ महीनों में 30 करोड़ से अधिक लोगों को टीका लगाना है.

Loading...
loading...
Tags

Related Articles

Live TV
Close