LIVE TVMain Slideदेशव्यापार

जनपद अयोध्या स्थित हवाई पट्टी को एयरपोर्ट के रूप में विकसित किए जाने के सम्बन्ध में

मंत्रिपरिषद ने जनपद अयोध्या स्थित हवाई पट्टी को एयरपोर्ट के रूप में विकसित किए जाने हेतु अतिरिक्त भूमि का क्रय राजस्व विभाग के शासनादेश संख्या-2/2015/215/एक-13-2015-20(48)/2011 दिनांक 19 मार्च, 2015 द्वारा विहित व्यवस्था के अनुसार किए
जाने हेतु अनुमानित लागत लगभग 4,26,48,47,440 रुपए (चार अरब, छब्बीस करोड़, अड़तालीस लाख, सैंतालीस हजार, चार सौ, चालीस रुपए मात्र) के व्यय की प्रशासकीय एवं वित्तीय स्वीकृति प्रदान कर दी है।
मंत्रिपरिषद द्वारा क्रय की गई भूमि को ‘श्री राज्यपाल द्वारा निदेशक, नागरिक उड्डयन, उ0प्र0’ के नाम दर्ज किए जाने के प्रस्ताव पर भी अनुमोदन प्रदान किया गया है।
भूमि क्रय करने में किसी प्रकार का अवरोध उत्पन्न होने की स्थिति में भूमि अर्जन, पुनर्वासन और पुनस्र्थापन में उचित प्रतिकर और पारदर्शिता अधिकार अधिनियम, 2013 के अन्तर्गत भूमि का अधिग्रहण किए जाने के प्रस्ताव को भी अनुमोदन प्रदान किया गया है।
मंत्रिपरिषद द्वारा जनपद अयोध्या स्थित हवाई पट्टी को एयरपोर्ट के रूप में विकसित करने एवं अन्य सम्बन्धी कार्यों के सम्बन्ध में भविष्य में यथावश्यकता निर्णय लेने हेतु मुख्यमंत्री जी को अधिकृत किया गया है।
ज्ञातव्य है कि अयोध्या स्थित हवाई पट्टी को ए320 जैसे बड़े विमानों के लिए विकसित करने के उद्देश्य से इस हवाई पट्टी में रनवे और टर्मिनल बिल्डिंग आदि का निर्माण कराया जाएगा। इस कार्य के लिए 233 एकड़ भूमि की व्यवस्था की जाएगी।
Loading...
loading...
Tags

Related Articles

Live TV
Close