LIVE TVMain Slideखबर 50देश

दिसम्बर 2021 के अन्तिम सप्ताह या जनवरी 2022 के प्रथम सप्ताह तक अयोध्या एयरपोर्ट का शिलान्यास कराया जायेगा

उत्तर प्रदेश सरकार के नागरिक उड्डयन, अल्पसख्ंयक कल्याण, वक़्फ़ एवं हज, राजनैतिक पेंशन विभाग के मंत्री श्री नन्द गोपाल गुप्ता ‘नन्दी‘ ने आज विधान भवन के अपने कार्यालय कक्ष में नागरिक उड्डयन विभाग के अधिकारियों के साथ विभिन्न कार्यों की प्रगति समीक्षा बैठक की।  
श्री नंदी ने प्रदेश में विकसित किये जा रहे एयरपोर्ट्स की स्थिति की जानकारी लीजिसमें उन्होंने आगरा, अलीगढ़, आज़मगढ़, मुरादाबाद, श्रावस्ती, चित्रकूट, बरेली, झांसी, कानपुर, मेरठ, सोनभद्र, सहारनपुर, ललितपुर, गोरखपुर, हिण्डेन, प्रयागराज एयरपोर्ट के विषय में विस्तार से जानकारी ली। श्री नंदी ने अयोध्या एयरपोर्ट के शिलान्यास कराए जाने हेतु दिसंबर-2021 के अंत तक या जनवरी-2022 के प्रथम सप्ताह तक कराए जाने के लिए अधिकारियों को तैयारियों हेतु निर्देश दिये। इसके अलावा अन्य 05 एयरपोर्ट के लोकार्पण हेतु दिसंबर में ही कराए जाने के निर्देश दिये।
बैठक में नागरिक उड्डयन विभाग के निदेशक व विशेष सचिव श्री कुमार हर्ष ने बताया कि सभी एयरपोर्ट्स का विकास कार्य अन्तिम चरण में है और जल्द ही एयरपोर्ट्स क्रियाशील हो जायेंगे और प्रदेश में चालू एयरपोर्ट्स की संख्या भी बढ़ जाएगी।
श्री नंदी ने लखनऊ, गोरखपुर, कानपुर नगर, प्रयागराज, आगरा, हिण्डेन (गाजियाबाद), बरेली, अलीगढ़, आजमगढ़, श्रावस्ती, मुरादाबाद, चित्रकूट, म्योरपुर (सोनभद्र), झांसी, अयोध्या, कुशीनगर तथा सरसावा (सहारनपुर) एयरपोर्ट्स की अद्यतन स्थिति की जानकारी ली। इन एयरपोर्ट्स पर चर्चा के दौरान मंत्री श्री नन्दी ने निर्देश दिए कि इन एयरपोर्ट्स से उड़ानों का संचालन आरम्भ कराने हेतु विशेष रूप से प्रयास किया जाए, इसके अलावा बुन्देलखण्ड क्षेत्र में एयरपोर्ट की आवश्यकता पर भी चर्चा की गई।
मंत्री श्री नंदी ने बताया कि वर्तमान सरकार के आने के बाद से एयरपोर्ट्स के विकास कार्यों को त्वरित गति प्राप्त हुई है और उत्तर प्रदेश सरकार के नागरिक उड्डयन विभाग द्वारा विकसित किये जा रहे एयरपोर्ट्स के कार्यों की केन्द्र सरकार के स्तर पर काफी सराहना भी की गई है।
उन्होंने कहा कि जेवर एयरपोर्ट की भांति ही उत्तर प्रदेश के अन्य एयरपोर्ट्स को पी0पी0पी0 माडल पर विकसित/संचालित किये जाने की संभावनाओं को भी देखा जाए और इसके लिए एएआई से समन्वय करते हुए डेवलपर्स के साथ चर्चा की जाए। श्री नन्दी ने नागरिक उड्डयन निदेशालय परिसर में क्रियाशील एयरोनॉटिकल ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट द्वारा विमानन के क्षेत्र में संचालित किए जा रहे कोर्सेस पर भी चर्चा की। निदेशक नागरिक उड्डयन श्री कुमार हर्ष द्वारा बताया गया कि कौशल विकास मिशन के अन्तर्गत विमानन क्षेत्र के 4 नए कोर्सेस संचालित किये जाने की कार्यवाही चल रही है जो शीघ्र ही आरम्भ हो जायेंगी। मंत्री श्री नंदी ने इस कार्य की सराहना व प्रसन्नता व्यक्त करते हुए निर्देश दिए कि विमानन क्षेत्र के अन्य नए कोर्सेस को सम्मिलित करते हुए इसका विस्तार किया जाए जिससे प्रदेश सरकार द्वारा विमानन क्षेत्र में दक्ष श्रमशक्ति उपलब्ध कराई जाए और प्रदेश के लोगों को रोजगार प्राप्त हो।
श्री नन्दी ने विभागीय अधिकारियों को टीम भावना के साथ अनुशासित होकर सकारात्मक दृष्टिकोण अपनाते हुए कार्य करने की सलाह दी। इस बैठक में नागरिक उड्डयन विभाग के निदेशक व विशेष सचिव श्री कुमार हर्ष सहित उ0प्र0 शासन के वरिष्ठ अधिकारीगण उपस्थित रहे।

Loading...
Loading...
loading...

Related Articles

Back to top button
Live TV