Main Slideउत्तर प्रदेशप्रदेश

कैराना हार की वजह CM योगी ने बताया अमित शाह को, की मंत्रिमंडल में फेरबदल पर भी चर्चा

लखनऊ। कैराना और नूरपुर उपचुनाव में मिली पराजय के बाद पहली बार दिल्ली गए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह से मिलकर हार की वजह बताई। उन्होंने सभी पहलुओं पर शाह से विधिवत चर्चा की। भविष्य के कार्यक्रमों की जानकारी देने के साथ ही योगी ने शाह से मिशन 2019 के लिए मार्गदर्शन प्राप्त किया। योगी एम्स में भर्ती उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य की कुशलक्षेम पूछने भी पहुँचे।

Loading...

सोमवार को योगी दिल्ली में थे। कैराना और नूरपुर की हार के बाद योगी और शाह की मुलाकात के कई निहितार्थ निकाले जा रहे हैं। भाजपा ने अधिकृत तौर पर कोई जानकारी साझा नहीं की लेकिन, सूत्रों का कहना है कि निकट भविष्य में अपने मंत्रिमंडल में फेरबदल पर योगी ने शाह से चर्चा की। विभिन्न आयोगों में पार्टी कार्यकर्ताओं के मनोनयन और वरिष्ठ नेताओं के समायोजन संबंधी कुछ महत्वपूर्ण मुद्दों पर भी चर्चा हुई।

संकेत मिल रहे हैं कि निकट भविष्य में मोदी मंत्रिमंडल में भी फेरबदल हो सकता है। इस फेरबदल में उत्तर प्रदेश के कुछ नेताओं का समायोजन हो सकता है। संभव है कि केंद्रीय नेतृत्व कुछ चौंकाने वाले भी फैसले करे। मंगलवार को भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ. महेंद्र नाथ पांडेय भी दिल्ली रहेंगे। अमित शाह से उनकी भी मुलाकात संभव है। डॉ. पांडेय उपचुनाव को लेकर संगठन की रिपोर्ट दे सकते हैं।

दिल्ली में योगी ने एम्स पहुंचकर उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य की कुशलक्षेम पूछी। पिछले सोमवार को केशव का ऑपरेशन हुआ था। केशव की हालत में अब लगातार सुधार हो रहा है। मुख्यमंत्री ने उनके शीघ्र स्वस्थ होने की कामना की। उन्होंने चिकित्सकों से भी केशव के स्वास्थ्य संबंधी जानकारी ली। मुख्यमंत्री के अलावा राजस्थान के राज्यपाल कल्याण सिंह, गृह मंत्री राजनाथ सिंह, सिंचाई मंत्री धर्मपाल सिंह, मंत्री मोती सिंह, मन्नू लाल कोरी समेत कई सांसदों और विधायकों ने केशव प्रसाद मौर्य से मुलाकात की।

Loading...
loading...

Related Articles

Live TV
Close