उत्तर प्रदेशप्रदेश

इंसेफलाइटिस के चलते हर साल सैकड़ों बच्चों की मौतें को लेकर CM योगी ने किया बड़ा दावा…

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बड़ा दावा किया है कि गोरखपुर इलाके में पहली बार इंसेफलाइटिस से होने वाली मौतों में कमी आई है. योगी ने बताया कि इस साल अभी तक महज 6 बच्चों की मौत हुई है. जबकि पिछले साल ये आंकड़ा 86 था.

Loading...

बता दें कि गोरखपुर इलाके में पिछले साल इसी अगस्त के महीने में ही बीआरडी मेडिकल कॉलेज में आक्सीजन की कमी के चलते इंसेफलाइटिस से पीड़ित सैकड़ों बच्चों की मौत हो गई थी. इसके चलते योगी सरकार की जमकर किरकिरी हुई थी.

बुधवार को सीएम योगी ने विधानसभा में बताया कि इस साल बीआरडी मेडिकल कॉलेज में इंसेफलाइटिस से होने वाली मौतों में भारी कमी आई है. इस साल सिर्फ 6 बच्चों की मौत हुई है.

योगी ने कहा कि सरकार द्वारा व्यापक तौर पर चलाया गया स्वच्छता अभियान और 15 साल तक के बच्चों को ‘दस्तक अभियान’ के तहत पूर्वांचल के क्षेत्र में व्यापक टीकाकरण के चलते इंसेफलाइटिस से होने वाली बच्चों की मौतों में कमी आई है.

पिछले साल के मुकाबले इस साल बीआरडी में इंसेफेलाइटिस के कम मरीजों की भर्ती हुई है. इस साल बीआरडी मेडिकल कॉलेज में भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या न सिर्फ पिछले साल बल्कि पिछले कई वर्षों की तुलना में काफी कम है. इस साल जून से जुलाई महीने के बीच में इंसेफेलाइटिस वार्ड में भर्ती 245 बच्चों को भर्ती कराया गया है.

गौरतलब है कि इंसेफलाइटिस से 2017 में बीआरडी मेडिकल कॉलेज गोरखपुर में 378 मरीज भर्ती कराए गए थे. इसमें 102 बच्चों की मौत हो गई थी. ये आंकड़ा सिर्फ बीआरडी मेडिकल कॉलेज का है. इस तरह से 2016 में 372 इंसेफलाइटिस मरीजों को भर्ती हुए थे, जिसमें से 96 बच्चों की मौत हो गई थी.

Loading...
loading...

Related Articles

Live TV
Close