मुहूर्त से पहले ही जदयू का चूड़ा-दही भोज, नेताओं ने कहा-हमारे लिए सब दिन शुभ

मुहूर्त से पहले ही जदयू का चूड़ा-दही भोज, नेताओं ने कहा-हमारे लिए सब दिन शुभ

जदयू के प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह के आवास पर आज दही-चूड़ा भोज का आयोजन किया गया है, जो मुहूर्त से पहले ही हो रहा है। इसपर जदयू नेता आरसीपी सिंह ने कहा है कि हमारे लिए मुहूर्त कोई मायने नहीं रखता, हमारे लिए तो 365 दिन एक समान होता है। उन्होंने कहा कि वशिष्ठ […]

Read More
पटना में 15 दिनों तक नहीं बिकेगी मछली, बेचा तो सात साल की जेल,10 लाख जुर्माना

पटना में 15 दिनों तक नहीं बिकेगी मछली, बेचा तो सात साल की जेल,10 लाख जुर्माना

 बिहार में आंध्र प्रदेश और पश्चिम बंगाल से आने वाली मछलियों की बिक्री पर 15 दिनों के लिए रोक लगा दी गई है। यह रोक फिलहाल पटना नगर निगम क्षेत्र में रहेगी। अगर कोई इन मछलियो की बिक्री या भंडारण करते हुए पकड़ा जाता है तो उसे सात साल की जेल और दस लाख का […]

Read More
RJD ने कैंसिल किया मकर संक्रांति भोज, कांग्रेस दफ्तर में रहेगी ‘दही-चूड़ा’ की धूम

RJD ने कैंसिल किया मकर संक्रांति भोज, कांग्रेस दफ्तर में रहेगी ‘दही-चूड़ा’ की धूम

मकर संक्रांति को लेकर दही-चूड़ा भोज पर भी सियासत परवान चढ़ने लगा है. मकर संक्रांति पर दही चूड़ा परोसने की परंपरा सियासी दलों के बीच वर्षों से रही है. राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) कार्यालय में भी इसकी धूम देखने को मिलती थी, लेकिन इस वर्ष लालू यादव को रांची हाईकोर्ट से बेल नहीं मिल पाने […]

Read More
लड़की के साथ ऐसी पुलिस दरिंदगी को जानकर चौंक जाएंगे आप, DIG बोले- होगी जांच

लड़की के साथ ऐसी पुलिस दरिंदगी को जानकर चौंक जाएंगे आप, DIG बोले- होगी जांच

बयान में कितनी सच्‍चाई है, इसका फैसला तो अदालत को करना है, लेकिन अगर यह सही है तो बिहार पुलिस एक बार फिर कटघरे में है। मामला गया के पटवा टोली में नाबालिग की हत्या मामले में उसकी बहन व परिवार वालों को बिजली के झटके व अन्‍य यातनाएं देकर झूठा बयान दिलाने तथा हत्‍या […]

Read More
कुत्‍ते की मौत पर रो पड़ा पूरा गांव, सम्‍मान के साथ किया अंतिम संस्‍कार

कुत्‍ते की मौत पर रो पड़ा पूरा गांव, सम्‍मान के साथ किया अंतिम संस्‍कार

 इस अनोखी शवयात्रा में भारी भीड़ उमड़ पड़ी। यह शवयात्रा किसी इंसान की नहीं, बल्कि एक कुत्‍ते की थी। जी हां, बिहार के नवादा स्थित बारापाण्डेया गांव में यह कुत्‍ता सबों का दुलारा था। उसकी मौत के बाद गांव के लोगों ने उसकी अंतिम विदाई पूरे रीति-रिवाज एवं सम्मान के साथ देने का फैसला किया। […]

Read More