LIVE TVMain Slideउत्तर प्रदेशट्रेंडिगदेश

कोरोना संक्रमण से बचाव और उपचार की व्यवस्थाओं को निरन्तर सुदृढ़ रखने के निर्देश

कोरोना संक्रमण से बचाव और उपचार की व्यवस्थाओं को निरन्तर सुदृढ़ रखने के निर्देश

Loading...

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा कि ट्रेस, टेस्ट, ट्रीट और टीकाकरण की नीति के प्रभावी क्रियान्वयन से राज्य में कोविड संक्रमण नियंत्रित स्थिति में है। उन्होंने कोरोना संक्रमण से बचाव और उपचार की व्यवस्थाओं को निरन्तर सुदृढ़ रखने के निर्देश देते हुए कहा कि कोविड प्रोटोकॉल का पूर्णतया पालन सुनिश्चित कराया जाए।
मुख्यमंत्री जी आज यहां अपने सरकारी आवास पर आहूत एक उच्चस्तरीय बैठक में प्रदेश में कोविड-19 की स्थिति की समीक्षा कर रहे थे। बैठक में मुख्यमंत्री जी को अवगत कराया गया कि पिछले 24 घण्टों में राज्य में कोरोना संक्रमण के 10 नए मामले सामने आए हैं। इस अवधि में 10 व्यक्तियों को सफल उपचार के उपरान्त डिस्चार्ज किया गया। वर्तमान में प्रदेश में कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्या 90 है। पिछले 24 घण्टे में प्रदेश में 1,46,011 कोरोना टेस्ट किए गए। अब तक राज्य में 08 करोड़ 51 लाख 16 हजार 289 कोविड टेस्ट सम्पन्न हो चुके हैं।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि प्रदेश सरकार लक्षित आयु वर्ग के सभी नागरिकों को कोरोना टीकाकरण का सुरक्षा कवच निःशुल्क उपलब्ध करा रही है। उन्होंने कोविड टीकाकरण कार्य में और तेजी लाने के निर्देश देते हुए कहा कि टीकाकरण के लिए ग्राम प्रधानों से लेकर सांसद तक सभी जनप्रतिनिधियों का सहयोग लिया जाए। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में प्रथम डोज संतृप्त ग्राम तथा शहरी इलाकों में प्रथम डोज संतृप्त वॉर्ड की भावना के साथ मिशन मोड में काम किया जाना जरूरी है।
बैठक में मुख्यमंत्री जी को अवगत कराया गया कि राज्य में गत दिवस तक 13 करोड़ 73 लाख से अधिक कोरोना वैक्सीन की डोज लगाई जा चुकी हैं। कोविड टीकाकरण के लिए पात्र कुल 15 करोड़ प्रदेशवासियों में से अब तक 10 करोड़ 07 लाख से अधिक लोगों को वैक्सीन की पहली डोज प्राप्त हो चुकी है। उन्होंने प्रदेश में प्रतिदिन 25 लाख लोगों को कोरोना वैक्सीन की डोज दिये जाने के निर्देश देते हुए कहा कि इस सम्बन्ध में कार्ययोजना बनाकर कार्यवाही की जाए।
मुख्यमंत्री जी ने निर्देशित किया कि जनपद कानपुर नगर के जिला प्रशासन द्वारा जिस प्रकार जीका वायरस के सम्बन्ध में कण्टेनमेण्ट जोन बनाकर इस पर नियंत्रण किया गया, उसी प्रकार जनपद लखनऊ में इस वायरस को नियंत्रित किया जाए। उन्होंने सभी जनपदों में स्वच्छता सैनिटाइजेशन तथा फॉगिंग का कार्य पूरी सक्रियता से संचालित किये जाने के निर्देश भी दिए। निगरानी समितियों का पूर्ण सहयोग लिया जाए।
मुख्यमंत्री जी को अवगत कराया गया कि प्रदेश में ऑक्सीजन प्लाण्ट की स्थापना तेजी से की जा रही है। प्रदेश में अब तक 515 ऑक्सीजन प्लाण्ट क्रियाशील हो चुके हैं। इनमें प्रधानमंत्री केयर्स फण्ड से स्वीकृत 128 ऑक्सीजन प्लाण्ट भी शामिल हैं।
मुख्यमंत्री जी ने कहा अतिवृष्टि/बाढ़ के कारण धान व गन्ना सहित जिस भी कृषि उपज का नुकसान हुआ है, राज्य सरकार उन सभी फसलों की क्षतिपूर्ति कर रही है। क्षतिपूर्ति के लिए 11 लाख 44 हजार किसानों को 377 करोड़ रुपये से अधिक धनराशि की स्वीकृति की गयी है। साढ़े 05 लाख किसानों के खाते में मुआवजा राशि भेजी जा चुकी है। मुख्यमंत्री जी ने निर्देशित किया कि यह सुनिश्चित किया जाए कि कोई भी पात्र किसान क्षतिपूर्ति से वंचित न रहे।
मुख्यमंत्री जी ने कहा कि प्रदेश में डी0ए0पी0 खाद की पर्याप्त उपलब्धता है। किसानों को डी0ए0पी0 खाद की शीघ्र पूर्ति करायी जाए। सीमावर्ती जनपदों में तस्करी की घटनाएं न हो। इसके लिए विशेष सतर्कता बरती जाए। डी0ए0पी0 खाद की उपलब्धता निर्धारित मूल्य पर सुनिश्चित हो तथा इसकी कालाबाजारी न होने पाए।

मुख्यमंत्री ने जनपद वाराणसी के दो दिवसीय भ्रमण पर आए गृह एवं सहकारिता मंत्री, भारत सरकार का बाबतपुर स्थित लाल बहादुर शास्त्री अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर स्वागत किया

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने आज जनपद वाराणसी के दो दिवसीय भ्रमण पर आए गृह एवं सहकारिता मंत्री, भारत सरकार श्री अमित शाह जी का बाबतपुर स्थित लाल बहादुर शास्त्री अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे पर स्वागत किया।
तत्पश्चात गृह एवं सहकारिता मंत्री जी, भारत सरकार एवं मुख्यमंत्री जी ने बी0एच0यू0 मुख्य द्वार पर पहुंचकर महामना पं0 मदन मोहन मालवीय की प्रतिमा पर श्रद्धा सुमन अर्पित किए।

Loading...
loading...

Related Articles

Back to top button
Live TV