ASAMLIVE TVMain Slideउत्तर प्रदेशखबर 50देशबड़ी खबर

दिल्ली में आज कार्यालयों को बंद करने पर होगा विचार

कोरोना वायरस प्रकोप के चलते दिल्ली सरकार स्वास्थ्य और सार्वजनिक परिवहन जैसी सुविधाओं को छोड़कर अन्य कार्यालयों को बंद किए जाने पर विचार कर रही है। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबित इस पर अंतिम फैसला गुरुवार को उपराज्यपाल अनिल बैजल और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के बीच प्रस्तावित उच्च स्तरीय बैठक के बाद लिया जाएगा। बैठक में कोरोना वायरस संक्रमण के वर्तमान हालात और इसके प्रसार की रोकथाम के उपायों को लेकर चर्चा होगी सूत्र ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग, सार्वजनिक परिवहन के अलावा खाद्य और आपूर्ति विभाग का काम जारी रहेगा जबकि संपत्ति पंजीकरण और ड्राइविंग लाइसेंस जारी करने जैसे कार्य रोके जा सकते हैं

स्वास्थ्य मंत्रालय ने आज बताया कि देश में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या 139 पहुंच गई है और 5700 से अधिक की निगरानी की जा रही है। वहीं, मुंबई के कस्तूरबा हॉस्टिपल में मंगलवार को 64 वर्षीय बुजुर्ग की मौत हो गई जो देश में अबतक की तीसरी मौत है। इस बीच आज केंद्रीय मंत्री मुरलीधरन ने भी खुद को क्वारेंटाइन कर लिया।

हालांकि जांच में वह नेगेटिव पाए गए। उधर, गो एयर ने कर्मचारियों को छुट्टी पर भेजने का फैसला किया है। वहीं, उज्जैन में डॉक्टर दंपती को क्वारेंटाइन किया गया है, यहां अबतक एक भी मामला सामने नहीं आया है। उधर, मध्य रेलवे ने 23 ट्रेनों को रद्द कर दिया

वही बतादे की लद्दाख में तैनात भारतीय सेना का एक जवान कोरोना संक्रमित पाया गया है। जवान के पिता ने ईरान की यात्रा की थी। सेना में कोरोना संक्रमण का यह पहला पॉजिटिव मामला है। सेना के सूत्रों ने बताया कि लद्दाख स्काउट के 34 वर्षीय जवान के पिता ईरान गए थे और 27 फरवरी को वापस लौटे थे। उसके पिता को 29 फरवरी से क्वारंटीन में रखा गया था और उनकी कोरोना जांच भी पॉजिटिव आई थी वहीं, जवान 25 फरवरी से अवकाश पर था और दो मार्च को वह वापस ड्यूटी पर आया।

सूत्रों का कहना है कि इस दौरान जवान अपने परिवार के साथ रहा। पिता की जांच पॉजिटिव आने पर जवान को सात मार्च को क्वारंटीन फैसिलिटी में रखा गया है साथ ही हैदराबाद में सरकारी संस्थानों को 31 मार्च कर बंद रखने के सरकारी आदेश का पालन न करने पर 66 संस्थानों को सील कर दिया गया है।

इनमें कोचिंग सेंटर, स्कूल, जिम और बार शामिल हैं। ग्रेटर हैदराबाद के मेयर बोंथू राममोहन ने बताया कि रोजाना जांच के लिए 18 विशेष दल बनाए गए हैं कोरोना वायरस संक्रमण को देखते हुए ओडिशा प्रशासन ने राज्य के कुछ जिलों में आपराधिक प्रक्रिया संहिता की धारा 144 लागू कर दी है। गजपति, जगतसिंहपुर, कंधमाल, भदरक और मयूरभंज जिलों में धारा 144 लगाई गई है।

Related Articles

Back to top button